scriptbastar dashara's deri gedai ritual performed | विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरे की दूसरी रस्म 'डेरी गड़ाई' हुई पूरी, यहीं से आरंभ होगा देवी के रथ निर्माण का काम | Patrika News

विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरे की दूसरी रस्म 'डेरी गड़ाई' हुई पूरी, यहीं से आरंभ होगा देवी के रथ निर्माण का काम

विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा का दूसरा प्रमुख रस्म ’डेरी गड़ाई’ सिरहासार भवन में गुरुवार को विधि-विधान से किया। रस्म की अदायगी के बाद दशहरा के लिए रथ निर्माण का कार्य शुरु हो जाएगा। इस दौरान मांझी, चालकी, पुजारी और बस्तर दशहरा समिति के सदस्य इस रस्म में शामिल हुए।

रायपुर

Updated: September 09, 2022 12:23:08 pm

जगदलपुर. 75 दिनों तक चलने वाले विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा पर्व की शुरूआत डेरी गड़ाई रस्म के साथ शुरू हो गई है, हरेली अमावस्या 2022 के दिन पाट जात्रा रस्म अदा करने के बाद, डेरी गड़ाई रस्म को पूरे विधि विधान के साथ संपन्न किया गया. इस दौरान बिरिंगपाल से लाई गई 10 फीट की सरई लकड़ी लकड़ियों को विधि-विधान पूर्वक मंत्रोच्चार के साथ पवित्र करते हुए हल्दी, चंदन, सिंदूर आदि लेप लगाकर सफेद कपड़ों में लपेटकर सिरहासार भवन के दो खंभों में बांधकर अंडा एवं जीवित मोंगरी मछली डाली गई, फिर उन गड्ढों में डेरी को स्थापित किया गया.

सालों से चली आ रही इस परम्परा का निर्वहन करते हुए रस्म के साथ ही 8 चक्कों का विशालकाय रथ निर्माण के लिए विशेष गांव से लकड़ियां लाने की प्रक्रिया शुरू की जायेगी. दशहरा में डेरी गड़ाई पूजा विधान के बाद बेड़ाउमरगांव और झारउमरगांव के लगभग 150 कारीगर मिलकर विशाल दुमंजिला रथों का निर्माण करेंगे।

bastar.jpg
deri.jpg

400 साल पुरानी है परंपरा
जगदलपुर के सिरासार भवन में आज बस्तर दशहरा पर्व की दूसरी बड़ी रस्म डेरी गड़ई की अदायगी की गई. रियासत काल से चली आ रही रस्म में परंपरानुसार डेरी गड़ई के लिए बिरिंगपाल गांव से सरई पेड़ की दो टहनियां लाई जाती हैं. दोनों टहनियों की पूजा अर्चना कर लकड़ियों को गाड़ने के लिए खोदे गए गड्ढों में अंडा और जीवित मछलियां डाली जाती हैं. उसके बाद टहनियों को गा़ड़ कर रस्म को पूरा किया जाता है और दंतेश्वरी माता से विश्व प्रसिद्ध दशहरा रथ के निर्माण की प्रक्रिया को शुरू करने की इजाजत ली जाती है. मान्यताओं के अनुसार रस्म के बाद से ही बस्तर दशहरा पर्व के लिए रथ निर्माण का कार्य शुरू किया जाता है. करीब 400 साल पुरानी परंपरा का निर्वहन आज भी पूरे विधि विधान के साथ किया जा रहा है.

आधुनिक औजारों की बजाए पारंपरिक औजारों का होता है उपयोग
डेरी गड़ाई की परंपरा के बाद ही शिल्पकारों द्वारा रथ निर्माण कार्य शुरु किया जाता है. डेरी गड़ाई की परंपरा करीब 600 सालों से चली आ रही है. परंपरा के अनुसार बस्तर के झारउमरगांव और बेड़ाउमरगांव के ग्रामीण ही रथ का निर्माण करते हैं. रथ बनाने के लिए आधुनिक औजारों की बजाए पारंपरिक औजारों का ही उपयोग किया जाता है. रथ की नगर परिक्रमा कराई जाती है.

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Thackeray Vs Shinde: उद्धव ठाकरे गुट की शिवसेना करेगी शिवाजी पार्क में दशहरा रैली, हाईकोर्ट ने दी इजाजत, कहा- BMC ने कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग कियाAnkita Bhandari Murder Case: 5 दिन से लापता रिजॉर्ट रिसेप्शनिस्ट के मर्डर का हुआ खुलासा, भाजपा नेता का बेटा निकला मुख्य आरोपीपंजाब में गैंगस्टरों की ऑनलाइन भर्ती, बंबीहा गैंग ने फेसबुक पर डाली डिटेल्स, वाट्सएप नंबर भी किया जारीPayCM Poster: कांग्रेस के पेसीएम पोस्टर अभियान को लेकर बढ़ा विवाद, अखिल अय्यर ने दी कानूनी कार्रवाई की धमकीकनाडा में बढ़ी भारत विरोधी गतिविधियां, सरकार ने एडवाइजरी जारी कर वहां जाने वाले भारतीयों को किया अलर्टVideo: दिल्ली में लगातार दूसरे दिन मेहरबान रहा मानसून, नोएडा में 24 सितंबर को बंद रहेंगे स्कूलदिल्ली के उपराज्यपाल ने 5 AAP नेताओं पर ठोका मानहानि का केस, दो करोड़ रुपए की हर्जाने की मांगMaharashtra: शिंदे गुट को बड़ा झटका, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दशहरा रैली को लेकर दायर याचिका को किया खारिज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.