पहली बार कोरोना के कारण भिलाई संयंत्र आधा बंद रहेगा

मैन पावर की संख्या 16 हजार से 50 फ़ीसदी घटकर केवल सात से आठ हजार ही रह जाएगी

By: bhemendra yadav

Updated: 27 Mar 2020, 06:24 PM IST

भिलाई। कोरोना वायरस के संक्रमण बचाव एवं सुरक्षा के दृष्टिकोण से भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन द्वारा निर्णय लिया गया है कि रिहीटिंग से संबंधित आधी इकाइयां ही चालू रहेंगी। जिसके कारण मैन पावर की संख्या 16 हजार से 50 फ़ीसदी घटकर केवल सात से आठ हजार ही रह जाएगी। जिसके कारण कोरोनावायरस के संक्रमण की संभावनाएं भी बहुत कम रह जाएंगी।

पढ़े: आपके घर का दरवाजा आपकी लक्ष्मण रेखा, इसे बिल्कुल न लांघें, नहीं तो बाहर खड़ा राक्षस हरण की प्रतीक्षा कर रहा : भूपेश

भिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अनिर्बन दास ने महाकोशल प्रतिनिधि से चर्चा करते हुए बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण बचाव एवं सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन द्वारा अधिकांश कर्मचारियों को घर पर रहने सोशल डिस्टेंसिंग को अपनाने के लिए तकनीकी दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण इकाइयों को ही चालू रखने का निर्णय लिया गया है ।

पढ़े: coronavirus : आम जनता की सहायता के लिए छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में कंट्रोल रुम तैयार, 24 घंटे करेंगे काम

इस निर्णय के कारण संयंत्र के भीतर कार्यरत कर्मचारियों की संख्या आधी से भी कम रह जाएगी उन्होंने बताया कि नियमित रूप से चालू रहने वाले यूनिट में ब्लास्ट फर्नेस क्रमांक 1एवं 8, यूनिवर्सल रेल मिल, एसएमएस-2 एसएमएस 3 कोक ओवन की अधिकांश इकाइयां चालू रहेगी। उन्होंने कहा कि यह यूनिटों को तकनीकी दृष्टिकोण से चालू रखना आवश्यक है।

पढ़े: Coronavirus : रहस्यमयी बीमारी के इलाज के लिए आखिर कैसा होता है आइसोलेशन वार्ड

शेष इकाइयों में कोक ओवन की 2 यूनिट, ब्लास्ट फर्नेस क्रमांक 6 एवं 7, मर्चेंट मिल, वायर राड मिल, प्लेट मिल एसएमएस1 बीबीएम मिल को ही लो ब्लास्ट पर रखा जाएगा। इस बड़े महत्वपूर्ण निर्णय के कारण भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन भी कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अग्रणी भूमिका निभाएगा एवं अपने कर्मचारियों को भी इस संक्रामक रोग के प्रभाव से दूर रख पाएगा।

पढ़े: विदेश यात्रा से लौटकर ये 17 लोग छिपा रहे जानकारी, तलाश जारी, देखें 17 लोगों की लिस्ट

कोरोना वायरस कोरोना वायरस समाचार
bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned