बिलासपुर लाठीचार्ज कांड : कांग्रेस ने प्रदेशभर में प्रदर्शन कर जताया विरोध, अन्य दलों ने भी की निंदा

बिलासपुर लाठीचार्ज कांड : कांग्रेस ने प्रदेशभर में प्रदर्शन कर जताया विरोध, अन्य दलों ने भी की निंदा

Deepak Sahu | Updated: 20 Sep 2018, 12:25:24 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

कांग्रेस के साथ आम आदमी पार्टी और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने भी इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है

रायपुर. बिलासपुर में कांग्रेसी नेताओं पर हुई लाठीचार्ज की घटना के विरोध में प्रदेशभर की सियासत गरमाई रही। कांग्रेस के साथ आम आदमी पार्टी और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने भी इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है। अंबिकापुर में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछार कर हटाया गया।

बस्तर में प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने कांग्रेसी नेताओं को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में कांग्रेस जोरदार तरीके से अपना विरोध दर्ज कराया।

READ MORE: कांग्रेस भवन में घुसकर कांग्रेसियों की पिटाई, मंत्री अमर अग्रवाल के बयान का कर रहे थे विरोध

राजधानी में बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल पर पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। कांग्रेस से जुड़े अलग-अलग संगठन ने बूढ़ातालाब में विरोध-प्रदर्शन किया। नलघर चौक के बाद युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने नुक्कड़ नाटक के जरिए सरकार के प्रति आक्रोश व्यक्त किया। इस दौरान मुख्यमंत्री और आबकारी मंत्री का मास्क पहनाकर दो लोगों को कुर्सी पर बैठाया गया था।

सांकेतिक तौर पर पुलिस को उनके कदमों के पास बैठाया गया था। उनके आदेश पर वे वहां मौजूद लोगों पर सांकेतिक तौर पर लाठी बरसाने लगे। एनएसयूआइ के कार्यकर्ताओं ने काले कपड़े पहनकर अपना विरोध दर्ज कराया।

सोशल मीडिया पर भी दिखा असर
सोशल मीडिया पर भी विरोध का रंग दिखाई दिया। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल सहित अधिकांश कांग्रेसी नेताओं ने अपनी डीपी काली कर रखी थी। सोशल मीडिया में भाजपा की हिटलरशाही का हैशटेग सबसे टोल होता रहा।

READ MORE: तुरंत-फुरंत टिप्पणीः यह लोकतंत्र पर हमला नहीं तो क्या हैः बरुण सखाजी

भाजपा ने घटना की निंदा कर कांग्रेस पर साधा निशाना
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता शिवरतन शर्मा ने बिलासपुर में हुई लाठी चार्ज की घटना की निंदा करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि घटना के संदर्भ में प्रदेश के मुख्यमंत्री ने संज्ञान लेकर उसकी जांच की घोषणा कर दी है। भाजपा इस दुर्भाग्यजनक घटना की निंदा करती है। उन्होंने कहा कि 2002-03 में कांग्रेस शासन में विपक्षी नेता प्रतिपक्ष नंदकुमार साय की पुलिस लाठीचार्ज में टांग तोड़ दी गई थी।

कई भाजपा नेताओं को बर्बर तरीके से पीटा गया था, लेकिन तत्कालीन कांग्रेसी मंत्रियों जिसमें भूपेश बघेल, सत्यनारायण शर्मा ने पुलिस कार्रवाई की निंदा नहीं की हम तो कल की घटना की निंदा करते है। मुख्यमंत्री ने घटना की जांच की घोषणा कर दी हैं, जिससे सच सामने आ जाएगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned