जनता पर महंगाई की एक और मार, अब बसों का किराया बढ़ाने की तैयारी

बस मालिकों की मांग पर परिवहन विभाग कर रहा अध्ययन
बस मालिकों की मांग पर 10 फीसदी तक बढ़ाये जाने के संकेत

By: Ashish Gupta

Published: 06 Mar 2021, 11:50 AM IST

रायपुर. ट्रेनों के बाद अब जल्दी ही यात्री बसों का किराया (Bus fare increase in Chhattisgarh) बढ़ेगा। बस मालिकों की मांग पर इसे 10 फीसदी तक बढ़ाने की तैयारी चल रही है। डीजल की लगातार बढ़ रही कीमत को देखते हुए परिवहन विभाग के अधिकारी इसकी कवायद में जुटे हैं। इसके लिए पड़ोसी राज्यों के किराए दर का विश्लेषण भी किया जा रहा है। साथ ही एसी- नॉन एसी, सामान्य और एकसप्रेस बसों की दूरी एवं क्षमता के अनुसार किराया भी तय किया जाएगा।

व्यापमं ने जारी की 2021 में होने वाले एग्जाम की डेट, जानिए कब होगी कौन सी परीक्षा

बता दें कि इस समय प्रथम 5 किमी की यात्रा का 7 रुपए और उसके बाद प्रति किमी 70 से 80 पैसे लिया जाता है। यह किराया 2017 में तय किया गया था। लेकिन पिछले 2 महीने में लगातार डीजल की कीमत बढऩे के बाद बस मालिकों ने अपर परिवहन आयुक्त और परिवहन मंत्री से मुलाकात कर किराया बढ़ाने की मांग की थी। अपर परिवहन आयुक्त दीपांशु काबरा ने बताया कि बस मालिकों की मांग को देखते हुए विचार-विमर्श किया जा रहा है। राज्य सरकार से अनुमति मिलने के बाद नई दर तय की जाएगी।

कोरोना से ठीक के बाद भूलकर भी न करें ये काम वरना हो जाएंगे इस बीमारी के शिकार

30 फीसदी किराया बढ़ाने की मांग
यातायात महासंघ के महासचिव कमलजीत पांतरे ने बताया कि डीजल की कीमत को देखते हुए किराया प्रथम 5 किमी का 10 रुपए और उसके बाद प्रति किमी 1.5 पैसा किए जाने की मांग की गई है। यह कुल किराया का तीस फीसदी अधिक है। महासंघ का कहना है कि स्थाई किराया नीति बनाया जाना चाहिए ताकि डीजल के दाम के अनुसार किराया तय किया जा सके।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned