राज्य के 27 जिलों में बसों का संचालन शुरू, पहले दिन कई रूट पर कम मिले यात्री

राज्य के 27 जिलों में यात्री बसों का संचालन शुक्रवार को शुरू हो गया। प्रथम चरण में करीब 1500 बसें सड़कों पर उतारी गई है।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 05 Sep 2020, 07:57 AM IST

रायपुर. राज्य के 27 जिलों में यात्री बसों का संचालन शुक्रवार को शुरू हो गया। प्रथम चरण में करीब 1500 बसें सड़कों पर उतारी गई है। प्रत्येक जिले से औसतन 50 बसें शुरू की गई। इसमें अंतर जिला और अंतरराज्यीय मार्ग पर चलने वाली बसें भी शामिल है। हालांकि अधिकांश बसों में 10 यात्री भी नहीं मिलने पर उन्हें रद्द कर दूसरी बसों से रवाना किया गया।

लोगों को बसों शुरू होने जानकारी नहीं मिलने के कारण ही यात्री नहीं पहुंचे। लेकिन, धीरे-धीरे स्थिति में सुधार होगा। यातायात महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश देशलहरा ने बताया कि ऑपरेटर अपनी बसों का संचालन शुरू कर चुके है। उन्हें नुकसान के बचने के लिए साथियों के साथ समन्वय बनाकर संचालन करने कहा गया है।

अंतरराज्यीय बस सेवा शुरू
बसों की हड़ताल समाप्त होते ही महाराष्ट्र के नागपुर, गढ़चिरौली, भंडारा, गोंदिया, मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा, रीवा, ओडिशा से भवानीपटना, कटक, झारखंड से गढ़वा के साथ ही तेलंगाना, आंध्र प्रदेश के सीमांत जिलों से कोंटा और जगदलपुर तक बसों का संचालन शुरू करने की जानकारी मिली है। बताया जाता है कि इनमें भी काफी कम संख्या में यात्री आए थे। वहीं इसमें से अधिकांश बसें का संचालन रात्रिकालीन होने के कारण 5 सितंबर की सुबह भी पहुंचेगा।

इन रूट पर अधिक यात्री
रायपुर से दुर्ग-भिलाई, धमतरी, राजिम, जगदलपुर, अंबिकापुर और बिलासपुर के रूट पर सबसे अधिक यात्री देखे गए। वहीं रात्रिकालीन बसों के लिए बुकिंग कराने वालों की संख्या में इजाफा बताया गया है। इसमें सर्वाधिक झारखंड और जगदलपुर जाने वाले यात्री शामिल हैं। बस मालिकों ने बताया कि ट्रेन बंद रहने के कारण लोग लंबी दूरी की यात्रा के लिए पूछताछ कर रहे है। बुकिंग आने पर जल्दी ही सूरत, हैदराबाद, पुणे मार्ग पर बसे शुरू होंगी। साथ ही छिंदवाड़ा और नागपुर के साथ ही ओडिशा और झारखंड के विभिन्न शहरों के लिए बस संख्या बढ़ाई जाएंगी।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned