डकैती के 50 लाख का हिसाब देने तीन दिन बाद भी रायपुर नहीं पहुंचा कारोबारी, साजिशकर्ता की तलाश

डकैती की शिकायत करने वाले बजरंग शर्मा और रामरतन शर्मा भी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। डकैती होने के दिन भी बबलू पुलिस के पास नहीं आया था और अब आरोपियों की गिरफ्तारी हो गई व पैसा भी बरामद हो गया, तो भी उसका पता नहीं चला है।

रायपुर. देवेंद्र नगर के क्षितिज कॉम्पलेक्स में प्लाईवुड कारोबारी के घर डकैती करने वाले पांचों आरोपियों को पुलिस दिल्ली से रायपुर लेकर पहुंची। सोमवार को सभी को कोर्ट में पेश किया जाएगा। दूसरी ओर ५० लाख रुपए का हिसाब देने के लिए प्लाईवुड कारोबारी बबलू शर्मा अब तक सामने नहीं आया है।

रहस्मय अवस्था में मिली युवती की सड़ चुकी लाश, लिव इन रिलेशनशिप रहती थी युवक के साथ

डकैती की शिकायत करने वाले बजरंग शर्मा और रामरतन शर्मा भी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। डकैती होने के दिन भी बबलू पुलिस के पास नहीं आया था और अब आरोपियों की गिरफ्तारी हो गई व पैसा भी बरामद हो गया, तो भी उसका पता नहीं चला है।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार की रात बबलू के फ्लैट नंबर 505 में किराए का मकान ढूंढने का बहाना करके अशोक जाखड़, प्रेम जाट, जयकिशन गोदरा, गणेश जाट और भवन चौधरी पहुंचे। और बबलू के कलेक्शन एजेंट बजरंग और रामरतन को कट्टा दिखाकर बंधक बनाया फिर लॉकर में रखे 50 लाख रुपए लूटकर भाग निकले थे। पुलिस को रात करीब 2 बजे सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में लग गई थी।

दिल्ली पहुंचने से पहले पकड़ा

आरोपियों की पहचान होने के बाद पुलिस की टीम गीताजलि एक्सप्रेस में सवार हो गई और दिल्ली पहुंचने से पहले ही चलती हुई ट्रेन में पांचों को अपने कब्जे में ले लिया। आरोपियों से पैसा बरामद करने के बाद सभी को रायपुर लाया गया।

साजिशकर्ता की तलाश

पूरी घटना के पीछे बबलू के पूर्व कर्मचारी मेलाराम का हाथ बताया जा रहा है। मेलाराम को पुलिस पकड़ नहीं पाई है। उसकी तलाश में पुलिस की टीमें राजस्थान के लिए रवाना हो गई है। पुलिस के मुताबिक मेलाराम को भी साजिशकर्ता के रूप में आरोपी बनाया जाएगा।

ये भी पढ़ें: 50 साल तक लिव-इन रिलेशन में रहने के बाद 73 साल के बुजुर्ग ने 67 साल की महिला से रचाई शादी, पूरा गांव हुआ शामिल

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned