26 फरवरी को 'भारत बंद' को लेकर छत्तीसगढ़ समेत देशभर से मिल रहा व्यापारियों का सर्मथन

  • कैट ने सभी व्यापारिक संगठनों से अपील की है कि वे जीएसटी विसंगतियों के विरोध में 26 फरवरी को भारत बंद में बड़ी संख्या में शामिल हों

By: ashutosh kumar

Published: 20 Feb 2021, 08:04 PM IST

रायपुर. कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के आह्वान पर 26 फरवरी को किए जा रहे 'भारत बंदÓ के लिए छत्तीसगढ़ समेत देशभर से व्यापारिक संगठनों का समर्थन मिल रहा है। इस संबंध में छत्तीसगढ़ के विभिन्न क्षेत्रों के व्यापारिक संगठनों ने अपना समर्थन पत्र कैट को सौंपा है। वहीं कैट सीजी चैप्टर ने वाणिज्यिक कर मंत्री टीएस सिंहदेव को प्रधानमंत्री के नाम जीएसटी विसंगतियों को दूर करने के लिए सरलीकरण और सुझावों पर ज्ञापन सौंपा।

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स एसोसिएशन (कैट) ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के प्रावधानों में हुए बदलावों की समीक्षा की मांग को लेकर 26 फरवरी को भारत बंद का आह्वान किया है। कैट ने कहा है कि जीएसटी के हालिया प्रावधानों के खिलाफ देशभर में धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। संगठन ने जीएसटी सिस्टम की समीक्षा और टैक्स स्लैब को और सरल करने और कारोबारियों के नियमों के अनुपालन के लिए इसे और तार्किक बनाने का आह्वान किया है। 26 फरवरी को भारत बंद को सफल बनाने के लिए कैट ने टैक्स प्रैक्टिशनरों, चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, कर सलाहकार, कंपनी सेक्रेटरी, लघु उद्योग, पेट्रोल पंप, डायरेक्ट सेलिंग, महिला संगठनों, उपभोक्ताओं, हॉकर्स, फिल्म उद्योग, फूड प्रोसेसिंग, मोबाइल उद्योग आदि से बंद में शामिल होने की अपील की है।

  • भारत बंद को लेकर छत्तीसगढ़ से इन संगठनों किया समर्थन
    कैट के भारत बंद को कई संगठनों का समर्थन हासिल हुआ है, जिसमें छत्तीसगढ़ साबुन एंड डिटर्जेन्ट निर्माता कल्याण संघ, श्रीराम थोक सब्जी विक्रेता समिति डूमरतराई, गोल बाजार व्यापारी संघ, गुरूनानक चौक व्यापारी संघ, रायपुर दाल मिल एसोसिएशन, व्यापारी संघ बीरगाव, व्यापारी संघ पुराना धमतरी रोड़, रायपुर कन्फेन्शरी एसोसिएशन, लालगंगा शॉपिग माल एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ सराफा एसोसिएशन, रायपुर प्लायवुड ट्रेडर्स एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ पेन्ट्स एंड कलर मैनुफैक्चरिंग एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ ग्लास एसोसिएशन, रायपुर साइकिल मर्चेन्ट एसोसिएशन, आलू प्याज आढ़तिया संघ, डूमरतराई व्यापारी कल्याण महासंघ आदि ने समर्थन दिया है।
ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned