सावधान! शासकीय अंग्रेजी स्कूल में शिक्षक बनाने के नाम पर ठगने वाला गिरोह सक्रिय

जिला शिक्षा अधिकारी ने शुरू कराई जांच, अधिकारियों के अनुसार योग्यता के आधार पर मिलेगी नियुक्ति

By: Nikesh Kumar Dewangan

Published: 09 Oct 2020, 07:11 PM IST

रायपुर. स्कूल शिक्षा विभ्भाग के अधिकारियों ने शासकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूलों के शिक्षक का चयन करने के लिए विज्ञापन दिया था। विभ्भाग के विज्ञापन पर रायपुर में 70 पोस्टों के लिए 800 से ज्यादा आवेदन आए। ऐसे में बेरोजगारी का फायदा उठाते हुए कुछ ठग विभ्भाग में सक्रिय हो गए है।

शासकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूल में शिक्षक की नौकरी दिलाने के नाम पर ठग आवेदकों से कांटेक्ट कर रहे है और नौकरी दिलाने के एवज में दो लाख की मांग कर रहे है। ठगों की कारनामे की जानकारी विभागीय अधिकारियों को हुई, तो अफसरों ने जांच बिठाई है। आवेदकों को डाटा लीक होने की जानकारी अधिकारी जुटा रहे हैं। अधिकारियों का आवेदकों से कहना है कि योग्यता के आधार पर ही शिक्षकों का चयन किया जाएगा। बैक डोर से इंट्री नहीं दी जाएगी।

2 लाख रुपए में दे रहे नौकरी लगाने का आश्वासन

आवेदकों से मिली जानकारी के अनुसार ठग 2 लाख्ख रुपए में नौकरी दिलाने का दावा कर रहे है। आधा पैसा एडवांस और शेष रुपयों का चेक मांग रहे हैं। हर बार आरोपियों द्वारा आवेदकों को अलग-अलग नंबर से फोन किया जा रहा है। आरोपियों ने कुछ लोगों की नौकरी की सेटिंग कराने का दावा भी किया है।

सितंबर में निकली थी भर्ती

अधिकारियों ने समाचार पत्रों के माध्यम से सितंबर माह में शायकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूल में शिक्षकों की संविदा नियुक्ति के लिए आवेदन मांगा था। शासकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूल का शिक्षक बनने के लिए जिले के 800 ने आवेदन फार्म जमा किया है। फार्म की जांच के बाद बड़ी संख्या में फार्म रिजेक्ट भी हुए हैं। विभ्भागीय सूत्रों के अनुसार चयनित शिक्षकों की लिस्ट बन चुकी है। जल्द ही शिक्षकों का नाम सार्वजनिक किया जा सकता है।

नवंबर में होगा उद्घाटन

शासकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूल का उद्धाटन 1 नवंबर को हो सकता है। सीएम भ्भूपेश बघेल इसका उद्धाटन करेंगे। उद्धाटन के मद्देनजर विभ्भागीय अधिकारियों ने तैयारी शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि स्कूल की घोषणा होने के बाद जुलाई माह से वर्चुअल क्लास लगाने की दावा स्कूल शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों ने किया था। विभागीय अधिकारी अपने दावे से दो माह पीछे चल रहे हैं। विभागीय अधिकारी जल्द से जल्द स्कूल संचालन करने की बात कह रहे है।

रायपुर जिला शिक्षा अधिकारी जीआर चंद्राकर ने बताया कि समिति द्वारा बनाए गए नियमों के आधार पर ही शासकीय अंग्रेजी मीडियम स्कूल में शिक्षकों का चयन होगा। बैक डोर से किसी को भी इंट्री नहीं मिलेगी। गुमराह करने वाले लोगों से सावधान रहें, हम भी मामले की जांच कराएंगे।

Nikesh Kumar Dewangan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned