अजवाइन है गुणों का खजाना, जानिए इसके फायदे

अजवाइन के छोटे-छोटे बीजों में ऐसे गुणकारी तत्‍व मौजूद हैं, जिनसे आप अब तक अंजान हैं. अजवाइन सर्दी-जुकाम, बहती नाक और ठंड से निजात पाने की अचूक दवा है.

By: bhemendra yadav

Published: 23 Sep 2020, 07:09 PM IST

आमतौर पर अजवाइन का इस्‍तेमाल नमकीन पूरी, मठ्ठी, नमक पारे और पराठों का स्‍वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है. लेकिन अजवाइन के छोटे-छोटे बीजों में ऐसे गुणकारी तत्‍व मौजूद हैं, जिनसे आप अब तक अंजान हैं. इनडाइजेशन या अपच होने पर अकसर मां हमें गरम पानी और नमक के साथ अजवाइन खाने की हिदायत देती है. यही नहीं अजवाइन सर्दी-जुकाम, बहती नाक और ठंड से निजात पाने की अचूक दवा है. इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट और जलनरोधी तत्‍व पाए जाते हैं, जो न सिर्फ छाती में जमे कफ से छुटकारा दिलाते हैं बल्‍कि सर्दी और साइनस में आराम देते हैं. यहां पर हम आपको अजवाइन के ऐसे ही आठ फायदों के बारे में बता रहे हैं.

1. गैस और कब्ज
गैस और कब्ज की समस्या किसी को भी हो सकती है। ऐसे में अजवाइन इस समस्या के लिए असरदार साबित हो सकती है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर पब्लिश एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, अजवाइन में एंटीस्पास्मोडिक और कार्मिनेटिव गुण पाए जाते हैं, जो गैस के प्रभाव को कम करने के लिए दवाई का काम कर सकते हैं। साथ ही, इसमें थाइमोल नामक कंपाउंड भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिसका उपयोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की बीमारियों से राहत पाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा, अजवाइन खाने को पचाने में भी मदद कर सकती है, जिससे कि कब्ज की समस्या को दूर रखा जा सकता है और मल त्यागने में आसान बना सकता है। ऐसे में कहा जा सकता है कि अजवाइन के फायदे गैस और कब्ज से निजात दिला सकता है।

2. अस्थमा
अस्थमा जैसे श्वसन तंत्र की समस्या से राहत दिलाने में भी अजवाइन के लाभ दिखाई दे सकते हैं। दरअसल, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, अजवाइन में एंटीअस्थमा प्रभाव होता है, जिसका सकारात्मक प्रभाव श्वसन प्रणाली पर पड़ता है। इससे अस्थमा की समस्या से कुछ राहत मिल सकती है।

3. सर्दी, फ्लू और वायरल इन्फेक्शन
इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मेसी एंड लाइफ साइंस द्वारा किए गए एक वैज्ञानिक रिसर्च में दिया गया है कि अजवाइन के बीज में लगभग 50% थाइमोल मौजूद होता है, जिसे मुख्य तौर पर एंटीबैक्टीरिया के रूप में जाना जाता है। इसके अलावा, थाइम शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) को भी बढ़ाने का काम कर सकता है, जिससे जुकाम, फ्लू और अन्य वायरल इन्फेक्शन को दूर रखा जा सकता है।

4. डायरिया
अजवाइन खाने के फायदे डायरिया से राहत दिलाने के लिए भी देखा जा सकता है। जर्नल ऑफ एप्लाइड फार्मेसी द्वारा प्रकाशित किए गए एक मेडिकल रिसर्च में दिया गया है कि अजवाइन में एंटी-डायरिया प्रभाव पाए जाते हैं, जो इस समस्या से निजात दिलाने में सहायक साबित हो सकता है।

5. गठिया, जोड़ों में दर्द
एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद एक रिसर्च पेपर में दिया गया है कि अर्थराइटिस (गठिया) और जोड़ों में दर्द से निजात दिलाने में अजवाइन लाभकारी हो सकती है। वहीं, एक दूसरे रिसर्च में बताया गया है कि अर्थराइटिस से जुड़ी समस्या से राहत दिलाने के लिए अजवाइन में पाए जाने वाले एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव मदद कर सकते हैं।

6. कोलेस्ट्रॉल
बढ़ते कोलेस्ट्रॉल की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन का उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, अजवाइन के बीज में एंटीहाइपरलिपिडेमिक प्रभाव पाया जाता है, जो शरीर के कोलेस्ट्रॉल, एलडीएल-कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स और टोटल लिपिड को कम करने में मदद कर सकता है। यह जानकारी एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद एक वैज्ञानिक शोध में दी गई है।

7. स्तनपान के लिए
प्रसव के बाद कुछ महिलाओं के स्तनों में ठीक तरह से दूध का उत्पादन नहीं होता, जिस कारण शिशु को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता है। ऐसे में स्तनपान करने वाली महिलाओं को आहार के साथ अजवाइन देने पर दूध की मात्रा में विकास हो सकता है। अजवाइन दूध स्राव को बेहतर करने में मदद कर सकता है, जिससे इंसफिशिएंट मिल्क सप्लाई सिंड्रोम से निजात मिल सकता है।

8. वजन कम करे
भुनी हुई अजवाइन खाने के फायदे शरीर के वजन को कम करने के लिए हो सकते हैं। एक शोध के अनुसार, अजवाइन को भूख को शांत रखने और मोटापे को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे वजन कम हो सकता है। वहीं, एक दूसरे शोध के मुताबिक, इसमें कुछ मात्रा फाइबर की पाई जाती है, जो मेटाबॉलिक की कार्यप्रणाली को बेहतर करने में मदद कर सकता है। इससे भोजन को पचाने में आसानी हो सकती है। साथ ही फाइबर लंबे समय तक भूख को शांत रखने में भी मदद कर सकता है, जिससे वजन को नियंत्रण में रखा जा सकता है। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि वजन घटाने के लिए अजवायन के फायदे हो सकते हैं।

9. किडनी स्टोन के लिए
अजवाइन खाने के फायदे किडनी स्टोन से राहत दिलाने के लिए भी हो सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, अजवाइन में ड्यूरेटिक प्रॉपर्टी पाई जाती है, जिसे किडनी स्टोन के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। ड्यूरेटिक प्रॉपर्टी पेशाब में कैल्शियम की मात्रा को कम कर सकती है। इससे किडनी स्टोन के निर्माण को रोका जा सकता सकता है। फिलहाल, इस संबंध में अभी और शोध की आवश्यकता है।

10. इंफ्लेमेशन के लिए
इंफ्लेमेशन की समस्या किसी को भी हो सकती है, लेकिन इसके बढ़ने पर समस्या गंभीर हो सकती है। ऐसे में इस समस्या से निजात पाने में अजवाइन का सेवन किया जा सकता है या फिर इसका पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाने से सूजन से आराम मिल सकता है। दरअसल, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव पाए जाते हैं, जो इंफ्लेमेशन की समस्या से निजात दिला सकते हैं।

11. पाचन के लिए
अगर आप सोच रहे हैं कि अजवाइन खाने से क्या होता है, तो हम बता दें कि यह पेट संबंधी कई समस्याओं से निजात दिला सकती है, जिनमें से एक पाचन भी है। कई बार आहार ठीक तरह से पच नहीं पाता है, जो पेट में समस्या उत्पन्न कर सकता है। ऐसे में अजवाइन का उपयोग पाचन तंत्र के लिए लाभकारी साबित हो सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, अजवाइन गैस्ट्रिक एसिड और डाइजेस्टिव एंजाइमों की गतिविधि को भी बढ़ावा देने का काम कर सकता है। इससे आहार को पचाने में मदद मिल सकती है ।

12. रक्तचाप के लिए
रक्तचाप के बढ़ने पर कई घातक समस्याओं का जोखिम बना रहता है। ऐसे में रक्तचाप को संतुलन में रखना जरूरी होता है, जिसके लिए अजवाइन का सेवन करना अच्छा उपाय साबित हो सकता है। इसमें थाइमोल की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो रक्तचाप को कम करने में सहायता कर सकता है। वहीं, अजवाइन का कैल्शियम चैनल ब्लॉकिंग प्रभाव हृदय की गति और रक्तचाप के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

13. त्वचा के लिए
अजवाइन के फायदे त्वचा के लिए भी हो सकते हैं। अजवाइन में थाइमोल पाया जाता है, जो त्वचा संक्रमण से छुटकारा दिलाने में सहायता कर सकता है। साथ ही इसमें एंटीवायरल, एंटीइंफ्लेमेटरी, एंटीफंगल और एंटी बैक्टीरियल गतिविधि भी पाई जाती है, जो त्वचा से फंगस, बैक्टीरिया और सूजन की समस्या को दूर कर सकती है।

14. बालों के लिए
बालों को पर्याप्त पोषण न मिलने पर बालों की समस्या उत्पन्न होने लगती है। ऐसे में बालों को पर्याप्त पोषण देने के लिए अजवाइन से बने तेल का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह तेल बालों को पर्याप्त पोषण देकर झड़ने और टूटने की समस्या से बचाए रख सकता है। फिलहाल, इस संबंध में किसी तरह का वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned