एसीबी की बड़ी कार्रवाई, रिश्वत लेते सीईओ, इंजीनियर और दो लिपिक गिरफ्तार

बुधवार को एसीबी की टीम ने अलग-अलग स्थानों में दबिश देकर यह कार्रवाई की है। साथ ही बलरामपुर के जनपद पंचायत सीईओ, बलौदाबाजार के सब इंजीनियर, सरगुजा के बीईओ और नारायणपुर के डीईओ कार्यालय के लिपिक को पकड़ा गया है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 30 Dec 2020, 10:26 PM IST

रायपुर. एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने पहली बार ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए रिश्वत लेते हुए 4 लोगों को रंगे हाथो गिरप्तार किया। बुधवार को एसीबी की टीम ने अलग-अलग स्थानों में दबिश देकर यह कार्रवाई की है। साथ ही बलरामपुर के जनपद पंचायत सीईओ, बलौदाबाजार के सब इंजीनियर, सरगुजा के बीईओ और नारायणपुर के डीईओ कार्यालय के लिपिक को पकड़ा गया है।

तलाशी में उनके पास से रिश्वत की रकम भी बरामद की गई है। एसीबी चीफ आरिफ शेख ने बताया कि एसीबी की अंबिकापुर, जगदलपुर और रायपुर की यूनिट द्वारा यह कार्रवाई की गई है। गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों से पूछताछ कर स्थानीय न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

बलरामपुर : सीईओ 60000 रिश्वत लेते गिरफ्तार

एसीबी अंबिकापुर की टीम ने 60000 रुपए की रिश्वत लेते हुए बलरामपुर जिले के रामचंद्रपुर जनपद पंचायत के सीईओ विनय गुप्ता को उसके कार्यालय से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने पुलिया निर्माण कार्य की राशि का भुगतान करने के एवज में ठेकेदार से 1 लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। साथ ही रिश्वत की रकम देने पर ही चेक काटकर देने का आश्वासन दिया था। इसकी लिखित शिकायत प्रार्थी द्वारा एसीबी में की गई थी। इसका सत्यापन करने के बाद आरोपी को रकम लेते हुए रंगे हाथो पकड़ा।

बालौदाबाजार :सब इंजीनियर 12000 की रिश्वत लेते पकड़ाया

सीसी रोड निर्माण कार्य का मूल्यांकन और सत्यापन के लिए बलौदाबाजार के सिमगा स्थित ग्रामीण यांत्रिक सेवा के उपअभियंता सुनील कुमार अग्रवाल ने 12000 रुपए की रिश्वत मांगी थी। सड़क ठेकेदार द्वारा इसकी शिकायत एसीबी की रायपुर यूनिट में की गई थी। टीम ने पूरे मामले का सत्यापन कर रकम के साथ ठेकेदार को भेजा था। साथ ही आरोपी को रंगे हाथो रिश्वत की रकम के साथ गिरफ्तार कर लिया।

सरगुजा : एरियर्स के लिए बाबू ने मांगा 10000 रुपए

एरियर्स राशि निकालने के एवज में प्रधान पाठक से सरगुजा के बतौली स्थित खंड शिक्षा कार्या में पदस्थ लिपिक प्रमोद गुप्ता ने 10000 रुपए की रिश्वत मांगी थी। इसकी शिकायत अंबिकापुर यूनिट ने प्रधान पाठक द्वारा की गई थी। साथ ही बताया कि सातवें वेतनमान की एरियर्स की राशि निकालने के एवज में रिश्वत की मांग की गई है। इसका भुगतान करने पर ही स्वीकृति आदेश जारी करने कहा। शिकायत पर एसीबी ने ट्रैप की कार्रवाई करते हुए आरोपी लिपिक को रिश्वत की रकम के साथ गिरफ्तार किया।

नारायणपुर : लिपिक 10000 की रिश्वत लेते गिरफ्तार

एसीबी जगदलपुर की टीम ने नारायणपुर जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के लिपिक किशोर कुमार मेश्राम को 10000 की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। आरोपी लिपिक ने शिक्षक को मनचाहे स्थान पर सलग्नीकरण करने के एवज में रिश्वत मांगी थी। शिकायत का सत्यापन कर एसीबी की टीम ने ट्रेप कार्यवाही करने हुए आरोपी की रंगे हाथो गिरफ्तार किया।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned