ऑनलाइन पोर्टल 'पढ़ई तुंहर दुआर' लॉन्च, ऑनलाइन कक्षाओं में शिक्षक बच्चों को पढ़ाएंगे और बच्चे प्रश्न भी पूछ सकेंगे

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया शुभारंभ किया

By: ashutosh kumar

Published: 07 Apr 2020, 07:37 PM IST

अब कोई भी शिक्षक किसी एक स्कूल का ही नहीं पूरे छत्तीसगढ़ के बच्चों का शिक्षक होगा: भूपेश
रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्कूली बच्चों को घर पर ही रहकर पढऩे के लिए ऑनलाइन पोर्टल 'पढ़ई तुंहर दुआर' का मंगलवार को शुभारंभ किया। बघेल ने इस मौके पर कहा कि लॉकडाउन के साथ ही आने वाले समय में बच्चों की निरंतर पढ़ाई में यह कार्यक्रम बहुत उपयोगी साबित होगा। उन्होंने कहा कि अब कोई भी शिक्षक किसी एक स्कूल का ही नहीं पूरे छत्तीसगढ़ के बच्चों का शिक्षक होगा। इस ई-लर्निंग प्लेटफार्म में ऑनलाइन इंटरएक्टिव कक्षाओं के जरिए शिक्षक और बच्चे अपने-अपने घरों से ही वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे। इस पोर्टल में होमवर्क तथा होमवर्क को ऑनलाइन जांचने की सुविधा भी है।

ऑनलाइन पोर्टल 'पढ़ई तुंहर दुआर' लॉन्च, ऑनलाइन कक्षाओं में शिक्षक बच्चों को पढ़ाएंगे और बच्चे प्रश्न भी पूछ सकेंगे

ऑनलाइन शिक्षा के तहत पोर्टल पर जूम ऐप के माध्यम से ऑनलाइन इंटरएक्टिव कक्षाएं भी आयोजित की जाएगी। जिनमें शिक्षक एवं बच्चे अपने-अपने घरों से ही वीडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ सकेंगे। इन ऑनलाइन कक्षाओं में शिक्षक बच्चों को पढ़ाएंगे और बच्चे प्रश्न भी पूछ सकेंगे। इस प्रकार ऑनलाइन क्लास का अनुभव कक्षा जैसा ही होगा। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी इस पोर्टल का उपयोग लगातार होता रहेगा। छत्तीसगढ़ के दूरस्थ अंचलों एवं विषय शिक्षकों की कमी वाली शालाओं के लिए भी यह कार्यक्रम बहुत उपयोगी होगा। स्कूल शिक्षा विभाग की वेबसाइट cgschool.in (सीजीस्कूलडाटइन) पर कक्षा एक से 10वीं तक के विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई के संसाधनों को इसमें उपलब्ध कराया गया है। आगे और इसका विस्तार किया जा रहा है, जिसके तहत शीघ्र ही कक्षा 11वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को यह सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

ashutosh kumar Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned