scriptCG Congress: पांच अहम कारण… जिसकी वजह से हार गई कांग्रेस, बैठक में दिगज्जों ने खुद बताई गलतियां | CG Congress: 5 reason for lost seat | Patrika News
रायपुर

CG Congress: पांच अहम कारण… जिसकी वजह से हार गई कांग्रेस, बैठक में दिगज्जों ने खुद बताई गलतियां

CG Congress: कर्नाटक के पूर्व सीएम वीरप्पा मोइली की मौजूदगी में अहम बैठक हुई। प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट, पूर्व सीएम भूपेश बघेल, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज सहित प्रदेश के तमाम वरिष्ठ नेता शामिल हुए।

रायपुरJun 29, 2024 / 09:51 am

Kanakdurga jha

CG Congress
CG Congress: लोकसभा चुनाव में हार के कारणों की समीक्षा के लिए शुक्रवार को कर्नाटक के पूर्व सीएम वीरप्पा मोइली की मौजूदगी में अहम बैठक हुई। प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट, पूर्व सीएम भूपेश बघेल, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज सहित प्रदेश के तमाम वरिष्ठ नेता शामिल हुए। बैठक में कांग्रेस प्रत्याशियों का गुस्सा भी फूट पड़ा, जिसमें नेताओं ने हार के लिए गुटबाजी और भितरघात को जिम्मेदार ठहराया।
एक तरह से सारा ठीकरा प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं पर फोड दिया गया। वहीं, बैठक में यह बात भी उठी कि विधानसभा चुनाव में हार की वजह से कार्यकर्ताओं में निराशा थी। इसका लोकसभा चुनाव (CG Congress) में भी नुकसान उठाना पड़ा। उस समय सत्ता और संगठन के बीच तालमेल नहीं था। लोकसभा चुनाव संसाधनों की भारी कमी रही। यह भी कहा गया कि भाजपा ने ध्रुवीकरण और राम मंदिर के मुद्दे की वजह से भी नुकसान हुआ।
यह भी पढ़ें

CG Protest: कांग्रेस विधायक संग धरने पर बैठे पूर्व पार्षद, कहा – पेट्रोल लेकर पालिका पहुंचा हूं.. आत्मदाह कर लूंगा

बैठक की शुरुआत में ही मोईली ने एक-दूसरे के खिलाफ नकारात्मक बातें नहीं करने की नसीहत दे दी थी। इसके बाद बैठक में हार के कारणों पर चर्चा हुई। बैठक से पहले मीडिया से चर्चा में मोइली ने कहा था कि कमेटी प्रदेश संगठन को मजबूत करने के लिए सुझाव देगी, ताकि आने वाले चुनाव में अच्छा कर सके। सामूहिक बैठक खत्म होने के बाद एक-एक कर प्रत्याशियों से चर्चा की गई।
सबसे पहले पूर्व सीएम भूपेश बघेल से बात की गई। वहीं, कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पायलट ने कांग्रेस में आपसी गुटबाजी के सवाल पर कहा, कांग्रेस में कहीं भी आपसी गुटबाजी नहीं है। आने वाले चुनाव की तैयारी अब कांग्रेस शुरू करने वाली है। बैठक में कमेटी के सदस्य राजस्थान के पूर्व मंत्री हरीश चौधरी और प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी सचिव चंदन यादव भी थे।

CG Congress: कार्यकर्ताओं का सम्मान करना चाहिए

बैठक में हार के कई कारण गिनाए गए। पिछली सरकार का कारण प्रमुख था। अधिकांश कार्यकर्ताओं ने इस बात को दोहराया। उनका कहना था कि जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी, तो उनको सम्मान नहीं मिला। उनका कोई भी काम नहीं होता था। कार्यकर्ताओं के छोटे-छोटे काम भी नहीं होते थे। यही वजह है कि कार्यकर्ताओं ने लोकसभा चुनाव में दिल से मेहनत नहीं की।

महालक्ष्मी न्याय योजना पर नहीं जताया विश्वास

बैठक में यह बात भी उठी कि आम जनता महालक्ष्मी न्याय योजना पर विश्वास नहीं कर सकी। इसमें एक लाख रुपए सालाना देने की बात थीं। कांग्रेस ने भाजपा सरकार महतारी वंदन योजना को काफी हल्के में लिया। इसका नुकसान भी कांग्रेस को उठाना पड़ा।
बाक्स

उठा बाहरी प्रत्याशी का मुद्दा, पायलट से मिले सुरेंद्र दाऊ

चुनाव के दौरान मंच से भूपेश बघेल के खिलाफ बोलने वाले सुरेंद्र दाऊ ने भी प्रदेश प्रभारी पायलट से मुलाकात की। यह मुलाकात काफी चर्चा में रही है। इसके अलावा बैठक में बाहरी प्रत्याशी का मुद्दा भी प्रमुखता से उठा। कार्यकर्ताओं ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई। बता दें कि कांग्रेस ने चार नेताओं को दूसरी लोकसभा सीट (CG Congress) से प्रत्याशी बनाया था। इसमें से एक भी प्रत्याशी चुनाव नहीं जीत सकें।

CG Congress: जांच के बिना कांग्रेस नेताओं को बना दिया आरोपी: पायलट

बैठक के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रभारी पायलट ने कहा, लोकसभा चुनाव में पूरी ताकत से लड़ा। हम थोड़ा पीछे हो गए, लेकिन मतदाता हमारे साथ है। पांच महीने में राज्य सरकार कोई भी छाप नहीं छोड़ पाई। लगातार हिंसा हो रही है। हिंसा होने के बाद कार्रवाई होने की जगह कांग्रेसी नेताओं को टारगेट किया जा रहा है। हिंसा की जड़ तक जाकर दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन सरकार प्रतिशोध की भावना से काम कर रही है। जांच हुए बिना प्रदेश के बड़े-बड़े मंत्री खुले मंच से कांग्रेसियों को आरोपी बना रहे हैं। यह काम करने का सही तरीका नहीं है। जनता भी सरकार के कामकाज को देख रही है।

Hindi News/ Raipur / CG Congress: पांच अहम कारण… जिसकी वजह से हार गई कांग्रेस, बैठक में दिगज्जों ने खुद बताई गलतियां

ट्रेंडिंग वीडियो