scriptCG Election result 2023: Mayor, Chairman,not able agents vote counting | CG Election result 2023 : वोट के काउंटिंग के लिए महापौर, सभापति, अध्यक्ष और पूर्व मंत्री नहीं बन पाएंगे एजेंट, सामने आई ऐसी वजह.. | Patrika News

CG Election result 2023 : वोट के काउंटिंग के लिए महापौर, सभापति, अध्यक्ष और पूर्व मंत्री नहीं बन पाएंगे एजेंट, सामने आई ऐसी वजह..

locationरायपुरPublished: Nov 26, 2023 03:45:41 pm

Submitted by:

Kanakdurga jha

CG Election result 2023 : तीन दिसंबर को विधानसभा चुनाव की मतगणना होगी।

वोट के काउंटिंग के लिए महापौर, सभापति, अध्यक्ष और पूर्व मंत्री नहीं बन पाएंगे एजेंट
वोट के काउंटिंग के लिए महापौर, सभापति, अध्यक्ष और पूर्व मंत्री नहीं बन पाएंगे एजेंट
रायपुर। CG Election result 2023 : तीन दिसंबर को विधानसभा चुनाव की मतगणना होगी। इसके पहले मतगणना ड्यूटी में शामिल अधिकारियों-कर्मचारियों को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा बनाई गई टीम के अधिकारियों द्वारा ट्रेनिंग दी जा रही है। शनिवार को राजधानी रायपुर में नए सर्किट हाउस में ट्रेनिंग प्रोग्राम रखा गया।
इस दौरान मास्टर ट्रेनर पुलक भट्टाचार्य और गीता दीवान ने रायपुर जिले की 7 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव ड्यूटी में लगे तमाम रिटर्निंग ऑफिसर, सहायक रिटर्निंग ऑफिसर समेत अधिकारियों को ट्रेनिंग दी। इस दौरान काउंटिंग की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान बताया गया कि मतगणना के लिए महापौर, सभापति, नगर पालिका के अध्यक्ष और पूर्व मंत्री- विधायक जिन्हें सुरक्षा मिली हैं, वे एजेंट नहीं बन पाएंगे।
होगी सील साइन की जांच: इस दौरान उन्होंने बताया कि सबसे पहले डाक मतपत्रों की गिनती होगी और इसके लिए सभी डाकमत पत्रों में से वैध और अवैध मतपत्रों को छांटा जाएगा। इसके बाद फिर गिनती की जाएगी। उसके बाद सर्विस वोटों की गिनती होगी, उसमें भी वैध अवैध मतों की छंटनी की जाएगी। राउंड वाइज ईवीएम मशीनों में दर्ज मतों की काउंटिंग शुरू होगी। स्ट्रांग रूम से आने वाली हर ईवीएम मशीन की सील साइन की जांच की जाएगी।
प्रत्याशी और एजेंटों के लिए जाएंगे साइन : मास्टर ट्रेनर पुलक भट्टाचार्य ने ट्रेनिंग में बताया कि प्रत्याशी और उनके प्रतिनिधि के साइन लिए जाएंगे, फिर काउंटिंग शुरू होगी। हर राउंड के दौरान इन प्रक्रिया को पूरा किया जाना है। प्रत्याशियों या उनके प्रतिनिधियों से कहां-कहां और कब -कब साइन कराने हैं, इन सभी बातों को बारीकी से बताया गया।
प्रत्येक चरण की काउंटिंग के बाद परिणाम बोर्ड पर डिस्प्ले किया जाएगा और अनाउंस भी किया जाएगा। वोटों की काउंटिंग के दौरान मीडिया को भी कवरेज की आजादी रहेगी।

आखिर में मतों का किया जाएगा मिलान
सभी चरण की काउंटिंग के बाद कुछ ईवीएम में पड़े वोटों का मिलान वीवीपैट में दर्ज मतों से मिलान किया जाएगा। सब कुछ सही सुनिश्चित हो जाने के बाद फिर डाक मतपत्र, सर्विस वोटर और ईवीएम मतों को जोड़कर अंतिम रूप से परिणाम की घोषणा की जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो