आपने भी कराया है बीमा तो होगी ये परेशानी, इंजीनियर की मौत के बाद परिवार को नहीं मिला 1 करोड़

आपने भी कराया है बीमा तो होगी ये परेशानी, इंजीनियर की मौत के बाद परिवार को नहीं मिला 1 करोड़

Chandu Nirmalkar | Updated: 13 Aug 2019, 02:49:18 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

CG Issue: परिजनों ने इंश्योरेंस कंपनी (Insurance company) को सूचना देकर क्लेम की राशि मांगी तो इंश्योरेंस कंपनी (Engineer death) आनाकानी कर रही है

रायपुर. कोरबा के डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी पावर प्लांट विस्फोट (Power plant) में मृत इंजीनियर (Engineer death) नितेश सिंह परिहार का परिवार 1 साल बाद भी इंश्योरेंस कंपनी (Insurance company) से क्लेम लेने के लिए भटक रहा है (CG Issue)। परेशान होकर पीडि़त परिवार ने कंपनी के खिलाफ उपभोक्ता फोरम (Consumer foram) में अर्जी लगाई है।

कोरबा के पावर प्लांट में नितेश सिंह परिहार जूनियर इंजीनियर की पोस्ट पर पदस्थ थे। 12 जुलाई 2018 को रोज की तरह सुबह 8.30 बजे पावर प्लांट में इलेक्ट्रिक मेंटेनेंस का काम चल रहा था। नितेश पैनल के पास खड़े होकर कर्मचारियों से काम करवा रहा था, इस दौरान विस्फोट होने से वे बुरी तरह झुलस गए। डॉक्टरों ने उन्हें पहले रायपुर और मुंबई रेफर किया। मुंबई में इलाज के दौरान 18 जुलाई को उनकी मौत हो गई। हादसे के बाद परिजनों ने इंश्योरेंस कंपनी को सूचना देकर क्लेम की राशि मांगी तो इंश्योरेंस कंपनी आनाकानी कर रही है।

 

दो पॉलिसी में एक का मुआवजा
नितेश की पत्नी दीपमाला ने बताया कि बताया कि नितेश ने आदित्य बिरला सन लाइफ इंश्योरेंस कंपनी से दो इंश्योरेंस पॉलिसी 25 लाख और 1 करोड़ रुपए की कराई थी। 25 लाख वाली पॉलिशी में मां को नॉमिनी और 1 करोड़ वाली पॉलिसी में अपनी पत्नी दीपमाला सिंह परिहार को नॉमिनी बनाया था। नितेश की मौत के बाद क्लेम करने पर इंश्योरेंस कंपनी ने 25 लाख वाली पॉलिसी का मुआवजा दे दिया, लेकिन 1 करोड़ की पॉलिसी के लिए परिजनों ने चक्कर लगवा रहे हैं।

हमने पॉलिसी और नॉमिनी के दस्तावेज पीडि़त परिवार से मांगे थे। पीडि़त परिवार को क्लेम मिल सके इसलिए री-इंश्योरर डिपार्टमेंट को जांच करने के लिए कहा था। आप वहां के प्रभारी अश्वनी साल्वे से बात कर लें।

अमित पोकर, प्रभारी क्लेम डिपार्टमेंट, आदित्य बिरला सन लाइफ इंश्योरेंस कंपनी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned