बेमेतरा जिले में सिटी बस सेवा योजना ठंडे बस्ते में

नोटिफिकेशन के बाद भी योजना प्रारंभ करने कोई पहल नहीं

By: Gulal Verma

Published: 19 Mar 2020, 04:41 PM IST

बेमेतरा। जिला मुख्यालय में चार वर्षों से सिटी बस सेवा की मांग की जा रही है।
जिले में सिटी बस सेवा की अत्यंत जरूरत है। इसके लिए नोटिफिकेशन होने के बावजूद शासन-प्रशासन द्वारा इस दिशा में अब तक कारगर प्रयास नहीं किया जा रहा है। सिटी बस सेवा प्रारंभ नहीं होने से क्षेत्र के लोग अधिक दर पर यात्रा करने को मजबूर हैं।सिटी बस सेवा को लेकर मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों से क्षेत्र के नागरिक गुहार लगा चुके हैं। लेकिन मांग पूरी नहीं होने से आटो, ई-रिक्शा, यात्री बस, मालवाहकों में अधिक किराया देकर जिला मुख्यालय आने को बेबस हैं। जिला मुख्यालय बनने के बाद बेमेतरा में आने-जाने वालों की संख्या बढ़ी है, लेकिन उस अनुपात में परिवहन की सुविधा में इजाफा नहीं हुआ है।
विद्यार्थियों की मांग पुरानी
जिले के पीजी महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं आसपास के क्षेत्र से आते हैं। वे वर्षों से सिटी बस चलाने की मांग कर रहे हैं। क्योंकि, उन्हें बस व अन्य यात्रीा वाहनों में आने-जाने में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पूर्र्व छात्रसंघ अध्यक्ष व पार्षद नीतू कोठारी ने कहा कि वे स्वयं सिटी बस सेवा की मांग करती आ रही हैं। लेकिन सहमति के बाद सिटी बस सेवा प्रारंभ नहीं हो पा रही है।
क्षेत्र में सिटी बस की जरूरत
सिटी बस सेवा प्रारंभ नहीं होने से आम लोगों के साथ ही जनप्रतिनिधियों ने भी नाराजगी जताई है। पार्षद प्रवीण नीलू राजपूत ने बताया कि छोटे-छोटे कस्बों व शहरों में सरकार सिटी बस का संचालनकरा रही है। लेकिन जिला मुख्यालय को तवज्जो नहीं दे रही है।
अन्य जिलों में बेवजह खड़ी हैं बसें
कवर्धा में कई वर्ष से सिटी बस संचालन के लिए कार्यवाही पूर्ण हो गई है। सितंबर 2015 में 10 सिटी बस प्रारंभ किया गया था। पर तय रूट में यात्री नहीं मिलने के कारण 6 बसों को खड़ी कर दिया गया है। एक बस पर 27 लाख रुपए खर्च किया गया है। साथ ही घुघरीकला में 50 हजार से अधिक की लागत से बाकायदा बस अड्डा भी बनाया गया है। पर इस जिला मुख्यालय में जरूरी होने के बाद भी सिटी बस प्रारंभ नहीं किया गया है।
नोटिफिकेशन के बाद भी कार्यवाही नहीं

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned