मूर्तिकार व चित्रकार संघ ने गृहमंत्री से की झांकी व गणेश प्रतिमा बनाने की मांग

प्रदेश के कई जिलों के मूर्तिकार राजधानी पहुंचे

By: Gulal Verma

Published: 07 Jul 2020, 05:50 PM IST

रायपुर। महासमुंद, राजनांदगांव, दुर्ग व रायपुर सहित प्रदेश के कई जिलों के सैकड़ों मूर्तिकारों व चित्रकारों ने सोमवार को गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से मुलाकात कर प्रशासन की गाइडलाइन के तहत मूर्ति निर्माण करने की अनुमति देने की मांग की है। मूर्तिकार व चित्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष परम यादव ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते विध्नहर्ता गणेश की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकारों की समस्याओं का अब तक कोई हल नहीं निकल पाया है। कोरोना संक्रमणकाल के चलते इस संबंध में सार्वजनिक गणेश उत्सव समितियों की प्रशासन से कोई बात नहीं हो पाई है।
उन्होंने कहा कि गृहमंत्री से मुलाकात कर संघ ने तीन मांगें की हैं। जिसमें प्रशासन की गाइडलाइन के तहत गणेश प्रतिमा निर्माण शुरू करने, दूसरे राज्यों से आने वाले गणेश प्रतिमाओं पर प्रदेश में रोक लगाने तथा कलाकारी या चित्रकारी कार्यों की निविदा संघ के कलाकारों की देने की मांग शामिल हैं। इससे प्रदेश के मूर्तिकारों व चित्रकारों की आर्थिक स्थिति में सुधार होने की उम्मीद है। संघ की मांग पर गृहमंत्री ने आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री से चर्चा करने के बाद गाइडलाइन बनाएंगे।

गाइडलाइन का इंतजार
देवानंद साहू (प्रलय आर्ट दुर्ग) ने बताया कि झांकी निर्माण का कार्य जून से शुरू कर देते हंै। लेकिन इस वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते गाइडलाइन नहीं मिलने से झांकी निर्माण नहीं कर पा रहे हैं। एक झांकी बनाने में १५ -२० दिन लगता है। गृहमंत्री से हमारे रोजगार का कोई समाधान निकाले की मांग की है।

राहत राशि की मांग
मूर्तिकार बालम चक्रधारी (बालम आर्ट अंजोरा) ने कहा, प्रदेश में लगभग पचास हजार बड़ी व एक लाख छोटी मूतियां बनकर तैयार हैं। प्रतिमा निर्माण से जीवन यापन चलता है। इस वर्ष कम प्रतिमाओं का निर्माण किया है। गणेशोत्सव समिति के सदस्य आर्डर देने आ रहे हैं, लेकिन हमें शासन से कोई गाइडलाइन नहीं मिली है। लिहाजा, प्रतिमा निर्माण फिलहाल बंद हंै। गृहमंत्री से मूर्तिकारों व चित्रकारों के जीवन यापन के लिए राहत राशि की मांग की है।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned