308 एनएचएम कर्मचारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा

16 हड़ताली कर्मचारियों को बर्खास्त करने का मामला

By: Gulal Verma

Published: 23 Sep 2020, 03:59 PM IST

बलौदा बाजार। 16 एनएचएम कर्मचारियों के बर्खास्तगी के आदेश से आक्रोशित जिले में कार्यरत लगभग 308 कर्मचारियों ने मंगलवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सामूहिक इस्तीफा सौंपा।
उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश एनएचएम कर्मचारी संघ अपनी नियमितीकरण की लंबित मांगों को लेकर 19 सितंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन पर है। किंतु, अब तक सरकार ने कोई भी सकारात्मक पहल नहीं की है। वहीं, कई जिलों में कर्मचारियों की सेवा समाप्ति का आदेश निकाला गया है। जिसके विरोध में सभी हड़ताली कर्मचारियों द्वारा अपने-अपने जिलों में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सामूहिक इस्तीफा सौंपा गया है।
संघ का कहना है कि हम जनता के अहित नहीं चाहते हैं। जनहित में सरकार को हड़ताल में रहने के साथ बिना वेतन के स्वयंसेवी के रूप में कार्य करने के लिए अनुमति देने निवेदन किया गया था, जिसे सरकार ने ठुकरा दी है। एक तरफ सरकार हमें कोरोना योद्धा कहती है, दूसरी तरफ कोरोना योद्धा के सम्मान में बर्खास्तगी का उपहार दिया जा रहा है। जब तक सरकार संघ की मांग को पूरा नहीं करती, हड़ताल जारी रहेगी। लॉकडाउन में वेबिनार या गूगल मीट की माध्यम से हड़ताल जारी रहेगी।

संघ के प्रदेशाध्यक्ष हेमंत सिन्हा, जिलाध्यक्ष दिनेश सिंह, हॉस्पिटल कंसल्टेंट स्वाति यदु, ममता बंजारे, श्वेता, सुजाता पाण्डेय, बीपीएम विकास जायसवाल, हेतराम कुर्रे, राजेश डहरिया, समस्त लेखा प्रबंधक, डाटा प्रबंधक, पीएडीए, स्टॉफ नर्स, आयुष डॉक्टर व समस्त संविदा कर्मचारियों की उपस्थिति में दिया गया।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned