लिपिक संघ अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

अपराधिक प्रकरण दर्ज कर दोषी अधिकारी को निलंबित करने की मांग

By: Gulal Verma

Published: 21 Oct 2020, 04:00 PM IST

मैनपुर। छत्तीसगढ़ लिपिक कर्मचारी संघ मैनपुर ने लिपिक शुभम पात्र आत्महत्या प्रकरण में दोषी के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए कड़ी नाराजगी जताई है। साथ ही संघ के सदस्य एसडीएम को ज्ञापन सौंप कर मंगलवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अंकिता सोम को ज्ञापन सौंप लिपिकों ने दोषी अधिकारी के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज कर निलंबन की कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। मांग पूरी नहीं होने तक संघ के पदाधिकारियों ने हडताल पर रहने की बात कही है।
ब्लॉक अध्यक्ष छ.ग. लिपिक कर्मचारी संघ मैनपुर सतीश कुमार साहू, संरक्षक एमडी मानिकपुरी, सतीश कुमार दीवान ने बताया कि देवभोग के लिपिक शुभम कुमार पात्र आत्महत्या प्रकरण में शासन प्रशासन के उदासीन रवैये को लेकर पूरा लिपिक परिवार क्षुब्ध व आक्रोशित हैं। दोषी अधिकारी के विरुद्ध आज पर्यन्त तक एफआईआर दर्ज नहीं किया गया है और न ही दोषी के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई है। बल्कि, दोषी अधिकारी के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के बजाय उनका स्थानांतरण तहसील मुख्यालय मैनपुर में कर दिया गया है। जिससे भविष्य में उनके द्वारा तहसील कार्यालय मैनपुर में पदस्थ कर्मचारियों को भी प्रताडि़त किए जाने की आशंका है।
ज्ञापन सौंपने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष छ.ग. लिपिक कर्मचारी संघ मैनपुर सतीश कुमार साहू, संरक्षक एमडी मानिकपुरी, प्रमोद मांझी, रजनीश रामटेके, सतीश कुमार दीवान, राजकुमारी वैष्णव, पुष्पा यादव, रजनीश रामटेके, तीजराम यादव, विनय कपिल, बलराम यादव, महेश मांझी, कमल मांझी, अजय कुमार सिंह, केशव राठौर, रवि राजभर, राजेश्वर राव सिंदे, जेसी कुर्रे, अशोक ठाकुर, चमार सिंह सोरी, पुरुषोत्तम नायक, रामनाथ नेताम, भास्कर नागेश, टेकराम धु्रव, अनुज कुटारे, तुफान मण्डावी, भागीराम पटेल, संधर धु्रव, शेखर यदु, संतोष ध्रुव, चन्द्रकांत विश्वकर्मा आदि कर्मचारी उपस्थित थे।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned