गादीगुड़ी गोना के दशहरा जात्रा में शामिल हुए सैकड़ों आदिवासी श्रद्धालु

फूलपान विसर्जित

By: Gulal Verma

Published: 27 Oct 2020, 04:46 PM IST

मैनपुर। मैनपुर के राजापड़ाव क्षेत्र के ग्राम गोना में स्थित गादीगुड़ी में मनाए जाने वाले नवजात्रा कार्यक्रम के दौरान नौ दिनों तक सेवा के बाद फूलपान विसर्जन किया गया। जिसमें 12 पाली से सैकड़ों आदिवासियों की उपस्थिति परंपरिक वाद्ययंत्र, वेशभूषा, गीत, संगीत, सामाजिक व्यवस्था व दैविक शक्ति के नजारा अपने आप में मिसाल था। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम उपस्थित रहे।
राजापड़ाव क्षेत्र समिति द्वारा परंपरागत जात्रा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में आदिवासी वेशभूषा व पारंपरिक वाद्य यंत्र के साथ क्षेत्र के लोग शामिल हुए। अपनी कला, संस्कृति, ढोल, मांदर,नगाड़ा से क्षेत्र को भक्तिमय बना दिया। कार्यक्रम में गोना, भूतबेड़ा, कोचेंगा सहित राजापड़ाव क्षेत्र के आठ ग्राम पंचायतों के लोग व नर्तक दल शामिल होकर संस्कृति की झलक प्रस्तुत की। मौके पर अतिथियों का पारंपरिक रूप से स्वागत किया गया व संस्कृति साझा की।
इस दौरान जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम ने कहा कि हमारी आदिवासी संस्कृति में जात्रा का विशेष महत्व है। ऐसे सामाजिक कार्यक्रम के माध्यम से हम आने वाली पीढिय़ों को अपने रीति-रिवाज से अवगत करा सकते हैं। इस अवसर पर मंदिर पुजारी हरचंद ध्रुव, सरपंच सुनील मरकाम,कोकड़ी सरपंच सखाराम मरकाम,अडग़ड़ी सरपंच कृष्ण कुमार नेताम, गौरगांव सरपंच प्रतिनिधि चिमन राम, जनपद सदस्य घनश्याम मरकाम, मनोज मिश्रा, पूर्व सरपंच मानसिंह मरकाम, प्रभुलाल सोरी, प्रताप नेताम, देवीसिंह नेताम, खुनाराम मरकाम नकुल नागेश, सिरबी नेताम, जनपद सदस्य प्रतिनिधि श्रीराम मरकाम, अन्नू ध्रुव, जयदेव नेताम, भीम मरकाम, कमलचंद, मेहत्तर नेताम, नकुल नेताम, रमेश कुमार, कैलाश नेताम, समारू राम मंडावी, बंशीलाल मरकाम, केशनाथ मरकाम, रोहन नेताम, रामेश्वर ध्रुव आदि उपस्थित थे।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned