कांग्रेसियों ने पदयात्रा कर किसान आंदोलन का किया समर्थन

केंद्र सरकार से किसान विरोधी कृषि कानून वापस लेने की मांग

By: Gulal Verma

Published: 17 Feb 2021, 04:32 PM IST

मैनपुर। अमलीपदर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी द्वारा सोमवार को शहीद किसानों के सम्मान व किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए अमलीपदर से धुरवागुड़ी तक पदयात्रा का आयोजन किया गया। जिला पंचायत अध्यक्ष स्मृति ठाकुर, आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री जनक ध्रुव, ब्लॉक कांग्रेस अमलीपदर के अध्यक्ष ललिता यादव, युवा कांग्रेस अध्यक्ष पंकज मांझी के नेतृत्व में पदयात्रा मार्च रैली निकाल कर केंद्र सरकार से किसान विरोधी तीन नए कानूनों को वापस लेने की मांग की गई।
जिला पंचायत अध्यक्ष स्मृति ठाकुर ने कहा कि लगातार पिछले ढाई-तीन माह से देशभर के किसान केन्द्र सरकार के द्वारा लाए गए तीन काले कानून के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे है, लेकिन केन्द्र की मोदी सरकार को किसानों की समस्या क्यों नजर नहीं आती। किसान आंदोलन का समाधान क्यों नही करना चाहती? पूरा देश आज किसानों के समर्थन में खड़ा है। आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री जनक ध्रुव ने कहा कि दिल्ली सहित अन्य राज्यों में देशभर के किसान काले कानून को वापस लेने की मांग को लेकर भारी ठंड में डटे हुए हैं, लेकिन केंद्र में बैठी बेशर्म सरकार को किसानों की कोई परवाह नहीं है। कई किसान शहीद हो गए, लेकिन भाजपा सरकार लगातार किसानों की उपेक्षा कर रही है। मोदी सरकार जबरन कृषि कानून को किसानों पर थोपना चाहती है।
इस मौके पर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष ललिता यादव, युवा कांग्रेस अध्यक्ष पंकज मांझी, उपेन्द्र मांझी, खेमतला, खेदूराम नेगी, रामेश्वर कपील, धनसिंह मरकाम, अनुराग वाघे, भूमिलता यादव, सरस्वती नेताम, अनिरूद्ध मिश्रा, बंशी नेताम, दामोदर सोरी, उमेश डोंगरी, बंशी साहू, जयंत दुबे, जीवन यादव, सुगती साहू, टंकेश नागेश, विरेन्द्र ठाकुर, नवीराम यादव, रूखसाना बेगम, पूरन साहू, मनोज बघेल, प्रेम नेताम सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned