क्वांर नवरात्रि के लिए जारी आदेश ही चैत्र नवरात्रि के लिए भी जारी

चैत्र नवरात्रि में सार्वजनिक चौक-चौराहों पर देवी प्रतिमा की स्थापना नहीं की जाती

By: Gulal Verma

Published: 07 Apr 2021, 04:17 PM IST

बलौदा बाजार। जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मंगलवार को जिला प्रशासन द्वारा आगामी चैत्र नवरात्रि मनाए जाने के संबंध में गाइडलाइन जारी की गई। गाइड लाइन को देखकर जिला प्रशासन की लापरवाही तथा कुंभकर्णी नींद का सहज रूप से अंदाजा लगाया जा सकता है। बीते वर्ष क्वांर नवरात्रि के पूर्व जारी आदेश को ही इस बार चैत्र नवरात्रि में भी केवल कॉपी कर दिया गया है। जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद इस प्रकार के गैर जिम्मेदाराना कार्य से जिलेवासियों को हैरत है।
विदित हो कि चैत्र नवरात्रि के संबंध में मंगलवार को जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश दरअसल बीते क्वांर नवरात्रि को जारी किए आदेश का केवल कॉपी पेस्ट है, परंतु नकल में भी अकल जैसे शब्दों को जिम्मेदार भी भूल गए है। चैत्र नवरात्रि में केवल मंदिरों तथा घरों में ही पूजा की जाती है तथा सार्वजनिक चौक-चौराहों में देवी की प्रतिमा की स्थापना नहीं की जाती है, परंतु आदेश जारी करने वाले जिम्मेदार अधिकारियों को इस बात की ना तो जानकारी है ना ही इस बात की परवाह है जिसके चलते मंगलवार को जारी आदेश में माता की प्रतिमा तथा झांकी की ऊंचाई, पंडाल का साइज, पंडाल के चारों ओर बांस-बल्ली की बेरिकेडिंग, दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या, भोग, भंडारा, डीजे से लेकर माता की विदाई यानी विसर्जन के संबंध में पूरे नियम निर्देश जारी कर दिए गए हैं, परंतु चैत्र नवरात्रि में मंदिरो में किस प्रकार पूजा की व्यवस्था तथा गाइड लाइन होगी इसका जिक्र नहीं है।
निर्धारित समय बाद भी खुल रही हैं दुकानें
जिले में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों के बावजूद जिला प्रशासन का रवैया बेहद सुस्त है। बीते दिनों जिला प्रशासन द्वारा जिले में धारा 144 लागू कर इसी प्रकार लंबे चौड़े निर्देश जारी किए गए, बगैर मास्क के शराब दुकान में शराब ना मिलने, 2 अप्रैल को व्यापारियों की आनलाइन बैठक कर वैक्सीनेशन में सहयोग करने की अपील के साथ मास्क लगाकर दुकान में रहने तथा बगैर मास्क के आए ग्राहकों को सामान ना देने संबंध फिर से लंबे-चौड़े दिशा निर्देश जारी किए गए, परंतु जिला प्रशासन द्वारा जारी सभी दिशा-निर्देशों का मैदानों पर पालन हो रहा है या नहीं इसे देखने की किसी भी जिम्मेदार अधिकारियों को फुरसत नहीं है, जिसकी वजह से जिला प्रशासन के सारे निर्देश केवल कागजों पर चल रहे हैं तथा मैदानों पर फ्लॉप हैं जिसकी वजह से जिले में कहीं भी कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं किया जा रहा है तथा कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned