रकम कलेक्शन करने वाली कंपनी में चोरी करने वाले 1 अपचारी बालक सहित 9 आरोपी़ गिरफ्तार

आरोपियों से चोरी की 2825300 रुपए जब्त, चोरी का मास्टरमाइंड निकला कंपनी का पूर्व कर्मचारी

By: Gulal Verma

Published: 11 May 2021, 04:35 PM IST

भाटापारा। रकम कलेक्शन करने वाली कंपनी में चोरी करने के मामले का पर्दाफाश हो गया है। पुलिस ने चोरी करने वाले 1 अपचारी बालक सहित 9 आरोपियों का गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से चोरी की 2825300 रुपए बरामद किया गया है। चोरी का मास्टरमाइंड ब्डै कंपनी का पूर्व कर्मचारी निकला। उन्होंने भाटापारा, पलारी और रायपुर के साथियों के साथ मिलकर चोरी की घटना को अंजाम दिया था।
मिली जानकारी के अनुसार भाटापारा शहर पुलिस ने सीएमएस कंपनी के द्वारा लिखाई गई रिपोर्ट के आधार पर चोरी के आरोप में 9 लोगों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। किंतु इसमें खास बात यह है कि रिपोर्ट 20 से 25 लाख रुपए के चोरी होने की लिखाई गई थी और बोला गया था कि सही रकम की जानकारी बिल रसीद मिलने पर दी जाएगी। लेकिन 8 मई तक रिपोर्टकर्ता के द्वारा थाने में यह जानकारी नहीं दी गई कि सही रकम कितनी है। मामले में कई तरह के सवाल उठते है।
घटना के संदर्भ में शहर थाने के प्रभारी रोशन सिंह राजपूत ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रार्थी नजीम खान सीएमएस इन्फो सिस्टम लिमिटेड छत्तीसगढ़ के हेड ने थाना आकर लिखित रिपोर्ट दर्ज कराया कि 3 मई को सीएमएस शाखा भाटापारा महारानी चौक मेें है, जहां पर बलौदाबाजार भाटापारा क्षेत्र के शराबभट्टी के बिक्री नकदी रकम का कलेक्शन कर रखा जाता है। 3 मई को दोपहर 12 बजे से रात्रि 8 बजे के मध्य कोई 2 अज्ञात चोर द्वारा दो बैग में रखे रकम अनुमानित रूप से बिल रसीद सहित 20-25 लाख रुपए को चोरी कर ले गया। सही रकम की जानकारी बिल रसीद मिलने पर मिलान कर दिया जाएगा की रिपोर्ट पर थाना भाटापारा में धारा 380, 454, 34 भादवि पंजीबद्व किया गया।
घटना का मास्टर माङ्क्षड पूर्व सीएमएस कर्मचारी मनोज देवांगन निकला। जिसने चोरी की घटना को कई माह पूर्व से प्लानिंग कर लाकर रूम का चाबी का डुप्लीकेट बनाया और कम्पनी के काम से रिजाइन दिया। जिसने बाद मौका देखते हुए अपने रायपुर, भाटापारा, पलारी के साथियंो के साथ मिलकर चोरी की घटना को अंजाम दिया। 3 मई को योजनाबद्व तरीके से मनोज उर्फ छोटु देवांगन, मन्नु साहू, राजा उर्फ हितेश निर्मलकर, उमाकांत गुप्ता, मालिकराम देवांगन, छोटु उर्फ बच्चा साहू व अपचारी बालक घटना स्थल के पास पहुंचे। कुछ लोग निगरानी व रेकी कर रहे थे। राजा उर्फ हितेश निर्मलकर, उमाकांत गुप्ता मुह मे गमछा बांध कर कम्पनी के वाल्ट रूम में प्रवेशद्वार का पूर्व से डुप्लीकेट चाबी का इस्तेमाल कर ताला खोलकर अंदर घुसकर दो बैग के रखे नकदी रकम को चोरी कर ले गए।
गिरफ्तार आरोपियों के नाम
मनोज उर्फ छोटु देवांगन गुरुनानक वार्ड भाटापारा, मन्नु साहू गुरुनानक वार्ड भाटापारा, हरिशंकर उर्फ बाउ देवांगन ग्राम पलारी, हेमंत देवांगन सकरी, राजा उर्फ हितेश निर्मलकर भाटागांव रायपुर, उमाकांत गुप्ता भाटागांव गणेश चौक, रायपुर, मालिकराम देवांगन उर्फ छोटु पलारी, छोटू उर्फ बच्चा साहू भाटापारा व नाबालिग अपचारी बालक।

वर्जन
इतनी बड़ी चोरी को मीडिया से भी कैसे छुपाया गया। जब चोरी हुई तब इसकी जानकारी मीडिया के लोगों को क्यों नहीं दी गई। इस मामले में पुलिस को इस बात की भी जांच करनी चाहिए कि यह रकम कहां से और कैसे आती है। पूर्व में सिंमगा क्षेत्र में भी ऐसा ही मामला सामने आया था, परंतु कुछ राशि जब्त करने के बाद पूरे मामले को समाप्त कर दिया गया था। पूरे मामले में बारीकी से जांच किए जाने नितांत आवश्यकता है।
- शिवरतन शर्मा, विधायक, भाटापारा

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned