अधिकारियों के रहवासी क्षेत्र में पहुंचा तेंदुआ, मचा हडक़ंप

कुत्ते का किया शिकार, लोग दहशत में

By: Gulal Verma

Published: 09 Jun 2021, 04:16 PM IST

गरियाबंद। इन दिनों जिला मुख्यालय में अधिकारियों के रहवासी क्षेत्र सिविल लाइन में वन्य प्राणी तेंदुए के लगातार विचरण से हडक़ंप मची हुई है। जंगल से नगर में तेंदुआ के देखे जाने से लोग पिछले तीन-चार दिनों से भयभीत है। सिविल लाइन क्षेत्र में कलेक्टर सहित कई प्रशासनिक अधिकारियों का बंगला है। रात में तेंदुआ पहुंचता है, जिसके चलते वन विभाग ने सुरक्षा के मद्देनजर अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है, जो लगातार निगरानी कर रहे हैं। उसी क्षेत्र सिविल लाइन निवासी प्रतिभा हुमने के निवास से बीते रात एक विदेशी नस्ल के पालतू कुत्ते लेबरा की हमले से मौत के बाद तेंदुए आने की जानकारी लगी। तब वन विभाग ने कर्मचारियों को तैनात किया है।
बताया जाता है कि तेंदुए के निशान भी पाए गए हैं। सतर्कता बरतते हुए वन विभाग ने तेंदुए की खोज खबर लेने के लिए प्रभावित पशु मालिक के घर कैमरा भी लगाया गया है। यह पहला मौका होगा कि नगर के इतने नजदीक तक वन्य प्राणी तेंदुआ पहुंच गया है। पिछले वर्ष जरूर दर्रापारा ग्राम में तेंदुए के हमले से अनेक पशुओं की मौत हुई थी। अभी हाल में पिछले 20 दिनों के भीतर 1 किलोमीटर दूर ग्राम आमदी मैं तेंदुए के दो बच्चे पेड़ पर देखे गए थे।
जानकारी के अनुसार वन विभाग ने सुरक्षा इंतजाम के तहत परिक्षेत्र अधिकारी ने डिप्टी रेंजर शिवनारायण वर्मा को दल प्रभारी बनाया है। इसके अलावा परिसर रक्षक मुकेश निषाद, दाऊलाल, देव शरण कश्यप, सुरक्षा श्रमिक मोहनलाल ध्रुव, दिनेश कश्यप, बलराज साहनी कि ड्यूटी लगाई गई है।
इस संबंध में डिप्टी रेंजर शिवनारायण वर्मा ने बताया कि सिविल लाइन क्षेत्र में कैमरा लगाकर पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि तेंदुआ लगातार आ रहा है। अब तक पता नहीं चल पाया है। विभाग का प्रयास लगातार जारी है। उन्होंने बताया कि पशु मालिक की जानकारी पर प्रकरण तैयार कर उच्च अधिकारियों को भेजा जाएगा। जंगल से शहर तक वन्य प्राणी तेंदुए के आने की खबर पर उनका कहना था कि लगातार निगरानी की जा रही है। सुरक्षा के मद्देनजर कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned