राजिम त्रिवेणी संगम का पानी प्रदूषित, आचमन के लायक भी नहीं रहा

प्रदूषित पानी से संक्रमण फैलना का बढ़ा खतरा

By: Gulal Verma

Updated: 22 Jul 2021, 03:33 PM IST

नवापारा राजिम। नगर के त्रिवेणी संगम का पानी काफी प्रदूषित हो गया है, जो अब आचमन के लायक भी नहीं रहा। संगम में चारों ओर जलकुंभी व अनावश्यक पेड़- पौधे नजर आने लगे हैं। नदी में स्नान, अस्थि विसर्जन के लिए जब उतरते हैं तो पैर दलदल में फंस जाता है। यही नहीं प्रदूषित पानी के चलते लोंगों में संक्रमण फैलने के अंदेशे से इनकार नहीं किया जा सकता। अभी संगम में सफाई की आवश्यकता है। वैसे बरसात का समय भी है, संभवत: एनिकट के समस्त गेट खोल दिया जाए तो हो सकता है की समस्त उगने वाले पेड़-पौधे और दलदल पानी के तेज बहाव से बह जाए।
विदित हो कि बाढ़ आने के बाद भी एनिकट नहीं खोला जाता, जिसके चलते ऊपर का पानी तो बह जाता है, लेकिन दलदल व पेड़ -पौधे वहीं रह जाते हैं। यही नहीं कोरोना संक्रमण काल में बड़ी संख्या में लोगों व्दारा किए गए अपने परिजनों के अस्थि विसर्जन आज भी नदी में पड़े हुए हैं, जो नदी में उतरते ही पैरों में चुभने लगते हैं। यदि एनिकेट ट के पूरे गेट खोल दिए जाए तो हो सकता है तेज बहाव रेत को काटते हुए इन अस्थियों को अपने साथ बहाकर ले जाए।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned