नर्सरी के लिए प्रस्तावित भूमि से तहसीलदार ने कब्जा हटवाया

ग्राम पंचायत कोरदा का मामला

By: Gulal Verma

Published: 15 Sep 2021, 04:48 PM IST

कोरदा (लवन)। ग्राम पंचायत द्वारा प्रस्तावित नर्सरी के लिए आरक्षित भूमि पर गांव के दो लोगों के द्वारा मकान वपैरा रखकर कब्जा किया गया था। पंचायत द्वारा बार-बार नोटिस देने के बावजूद कब्जा नहीं हटाये जाने से तहसील कार्यायल लवन में ग्राम पंचायत के सरपंच व पंचों ने शिकायत की थी। इस पर तहसीलदार मौके स्थल पर पहुंचकर कब्जा को नियमानुसार हटवाया दिया है।
मिली जानकारी के अनुसार ग्राम कोरदा में पंचायत द्वारा प्रस्तावित नर्सरी के लिए आरक्षित भूमि पर गांव के कृष्ण कुमार वर्मा पिता रामधारी वर्मा ने पैरा रखकर व रामगोपाल रात्रे पिता ढेलू रात्रे ने मकान बाड़ी बनाकर कब्जा किया था। जिसके संबंध में पंचायत द्वारा तीन बार से अधिक नोटिस दिया गया था। उनके द्वारा अंतिम नोटिस का उचित जवाब प्रस्तुत करने पर ग्राम पंचायत के सरपंच और पंचों के द्वारा तहसीलदार लवन के पास कब्जा को हटाने के लिए शिकायत की गई थी। शिकायत के आधार पर तहसीलदार बलराम तम्बोली ने सोमवार को आरआई, पटवारी, कोटवार व पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम तैयार कर नर्सरी की भूमि से कब्जा हटवाया। हालांकि इस दौरान पंचायत को विरोध का सामना करना पड़ा।
रामगोपाल रात्रे के द्वारा बनाया गया मकान बाड़ी को ढहाया गया। वहीं, कृष्ण कुमार वर्मा के द्वारा पैरा रखकर किया गया कब्जा को विगत 15 दिवस के भीतर पैरा को ले जाने का समय दिया गया। उक्त दिवस तक पैरा को नहीं ले जाने पर तहसीलदार ने पंचायत का अधिकार होना बताया। इस दौरान तहसीलदार बलराम तम्बोली, आरआई आर. एस., पटवारी बृहस्प प्रधान, पुलिस चौकी लवन से एएसआई कमल किशोर देवांगन सहित पुलिस स्टाफ, सरपंच खेतरसिंह ध्रुव, उपसरपंच नंदबाई वर्मा, पंच फागुलाल रात्रे, चन्द्रमणी वर्मा, अश्वनी वर्मा आदि उपस्थित थे।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned