बरगलाकर धर्मान्तरण किए चार हिन्दुओं की हुई घर वापसी

पास्टर बनाने और नौकरी का प्रलोभन देकर बनाए थे ईसाई

By: Gulal Verma

Published: 24 Sep 2021, 05:00 PM IST

देवभोग। एक तरफ सरकार धर्मान्तरण के दावे को खारिज कर रही है। भाजपा भी धर्मान्तरण मामले पर सरकार के खिलाफ रैली कर विरोध कर रही है। ऐसे में देवभोग के झाखरपारा पंचायत के केन्दुवन में पिछले कुछ वर्षो में आधे से अधिक हिन्दुओं को धर्मान्तरण किया गया है। संख्या बढऩे से गांव में चर्च भी बन गया। देवभोग के दो दिवसीय प्रवास पर पहुंचे भाजपा सांसद चुन्नीलाल साहू और विधायक डमरूधर पुजारी को झाखरपारा बुलाकर तीन परिवार के चार लोगो ने घर वापसी किया है। इस पर वापसी कार्यक्रम में पूर्व विधायक गोवर्धन मांझी अजजा प्रदेश उपाध्यक्ष भागीरथी मांझी, सांसद प्रतिनिधि कुंजबिहारी बेहेरा, धर्म जागरण विभाग जिला संयोजक जयविलास शर्मा सहित जनपद अध्यक्ष नेहा सिंघल, मंडल अध्यक्ष सीताराम यादव, झाखरपारा सरपंच सनत मांझी, युवा मोर्चा अध्यक्ष पेकूराम मांझी, महामंत्री महेन्द्र निथि, खिरलाल नागेश, हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ता भगवानो बेहेरा सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।
कैन्दुवन के हैं घरवापसी करने वाले
घर वापसी करने वालो में सब कैन्दुवन के निवासी हंै।अपने मूल धर्म में वापसी करने वालों में गयाराम, इनकी पत्नीी कहन्ती बाई और जलेश्वर बेहेरा, लोकनाथ बघेल को सुन्दर कांड ग्रंथ के साथ श्रीफल भेंट किया गया। सांसद ने घर वापसी होने वालों को तिलक लगाकर स्वागत किया। वहीं, इस आयोजन के लिए भगवानो बेहेरा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

ग्रामीणों को दे रहे लालच
मतान्तरित हुए लोगों का कहना है ईसाई धर्म के पास्टरों व इस कार्य से जुडे कुछ व्यक्तियों ने इस परिवार के एक सदस्य को अपने धर्म का पास्टर और नौकरी पर लगाने का प्रलोभन भी दिया था। कई दिन बीत गये पर उन्हें ना नौकरी मिला ना पास्टर का पद मिला। बल्कि जलेश्वर बेहेरा के समक्ष तो गांव के अन्य लोगों को धर्म परिवर्तन करने की शर्त भी रख दी, उसके मना करने पर उसे पास्टर नहीं बनाया गया।

सांसद को सौंपा आवेदन
वापसी के बाद बाकायदा इस परिवार के एक सदस्य ने बहलाने फुसलाने वाले पास्टरों के खिलाफ कार्रवाई करने शिकायत पत्र भी सासंद को सौंपा है। इस आवेदन में जलेश्वर बेहेरा ने बागबहरा के कुलदीप खिष्टो और ओडिशा झरगांव के कैलाश नाग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। सासंद ने बरगला कर मतान्तरण कराने वाले इन ईसाई धर्म प्रचारकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned