कीचड़ से गुजरकर स्कूल पहुंचने को मजबूर हैं बच्चे

बुनियादी सुविधाओं की कमी से जूझ रहे सरकारी स्कूल

By: Gulal Verma

Updated: 24 Sep 2021, 05:15 PM IST

सेल। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय व शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय सेल के परिसर में कीचड़ होने से विद्यार्थियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मध्याह्न भोजन के लिए बच्चों को दलदल भूमि से गुजरकर जाना पड़ता है। यहां साइकिल स्टैंड का भी अभाव है। कीचनशेड में पानी टपकता है। राशन सामग्री रखने के लिए अतिरिक्त जगह नहीं है। वहीं, कोरोनाकाल में स्कूलों में कोई फंड नहीं दिया गया है, जिसके कारण शिक्षकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
एक ओर अभियान चलाकर बच्चों को स्कूलों तक लाने की कोशिश की जा रही है। वहीं स्कूल परिसर में बारिश का पानी भरने से छोटे-छोटे बच्चों को स्कूल तक पहुंचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही गंदे पानी का जमाव होने से संक्रामक बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। स्कूलों में बुनियादी सुविधाओं की कमी है। शौचालय में गंदगी पसरी हुई है।
प्रभारी प्रधान पाठक सवर्णलता डडसेना ने बताया कि स्कूल फंड में नहीं होने के कारण स्कूल परिसर में जलभराव और कीचड़ से सामना कर छात्र-छात्राओं को मजबूरी में गुजरना पड़ता है। विद्यालय परिसर को मरम्मत की सख्त जरूरत है। आवागमन करने में परेशानी नहीं होगी। निकासी की व्यवस्था नहीं हो पाने की वजह से स्कूल परिसर में पानी भर जाता है। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पहुंच मार्ग कीचड़ से सरोबार है।

इनका कहना है
मैं सरपंच को बोलता हूं। इसका शीघ्र समाधान करेंगे।
- के. के. गुप्ता, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, कसडोल


ग्राम पंचायत फंड में समतलीकरण के लिए राशि स्वीकृत नहीं हुई है। स्कूल परिसर के लिए राशि आएगी तो मरम्मत किया जाएगा।
- प्रहलाद जायसवाल, सरपंच, ग्राम पंचायत सेल

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned