विधायक से नाराज 200 से अधिक कांग्रेसियों ने पार्टी को भेजा सामूहिक इस्तीफा

ग्राम पंचायत कोपरा के सरंपच का साथ देने का मामला

By: Gulal Verma

Published: 13 Oct 2021, 04:29 PM IST

गरियाबंद। ग्राम पंचायत कोपरा इन दिनों काफी सुर्खियों में है। सरपंच-सचिव पर भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर चक्काजाम के बाद सचिव को निलंबित तो कर दिया गया, लेकिन सरपंच के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई है। जिसके कारण कांग्रेस के दर्जनों पदाधिकारियों सहित गांव के अधिकतर कांग्रेसियों ने पार्टी छोडऩे का मन बनाया है। नाराज पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओ ने अपना इस्तीफा पीसीसी चीफ मोहन मरकाम,प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, जिला प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत, विधायक अमितेष शुक्ल, जिलाध्यक्ष भावसिंह साहू और ब्लॉक अध्यक्ष रूपेश साहू को भेज दिया है। हालांकि अभी किसी का इस्तीफा मंजूर नहीं किया गया है। इस्तीफे के पीछे सरपंच के खिलाफ कार्रवाई में विधायक द्वारा ग्रामीणों का साथ नहीं देने को बताया जा रहा है।
विदित हो कि ग्राम कोपरा की सरपंच डॉ. डाली साहू पर भ्रष्टाचार के कई गंभीर आरोप हंै। जिस पर ग्रामीण सरपंच के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं। इसके लिए ग्रामीणों ने 26 सितंबर को 3 घंटे तक नेशनल हाईवे में चक्काजाम भी किया था। इस मामले में सचिव उत्तम साहू को तो निलंबित कर दिया गया है, लेकिन सरपंच के ऊपर अब तक कोई कार्रवाई नहीं होने से ग्रामीण सहित कोपरा के कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता काफी नाराज हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि विधायक अमितेष शुक्ल ग्रामीणों का साथ नहीं दे रहे हैं, जबकि सरपंच द्वारा सचिव के साथ मिलकर 14वें व 15वें वित्त की राशि में भ्रष्टाचार करने का मामला उजागर हुआ है। सामूहिक इस्तीफा देने वाले पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओ ने उच्च पदाधिकारियों को भेजे पत्र में भी इस बात का जिक्र किया है कि विधायक अमितेष द्वारा उनका सहयोग नहीं करने से वे हताश हैं और अपने पद वपार्टी से इस्तीफा दे रहे है।
जिला कांग्रेस महामंत्री व उपसरपंच राजेश यादव ने बताया कि वे गांव की सरपंच के मामले में विधायक के रुख से नाराज हैं। गांव के ज्यादातर कांग्रेसी विधायक के इस रवैये से खुश नहीं है। इसलिए 4 जिला महामंत्री, दो ब्लॉक महामंत्री सहित गांव के 200 से अधिक कार्यकर्ताओं ने सामूहिक इस्तीफे का फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि इस्तीफे की कॉपी उच्च पदाधिकारियों को भेजी जा रही है। इस्तीफा देने वालो में स्वयं जिला महामंत्री राजेश यादव, ओंकार सिंह ठाकुर, ठाकुरराम साहू, मोतीलाल साहू शामिल हैं। इसके अलावा ब्लॉक महामंत्री रिकेश साहू व नंदकुमार साहू सहित 200 से अधिक गांव के कार्यकर्ता शामिल हैं।

वर्जन
उन्हें अभी इस मामले की जानकारी मिली है। किसी भी पदाधिकारी या कार्यकर्ता का इस्तीफा मंजूर नहीं किया जाएगा। मामले को बैठकर सुलझाने का प्रयास किया जाएगा।
- भावसिंह साहू, जिलाध्यक्षो बैठकर सुलझाने का प्रयास किया जाएगा।
- भावसिंह साहू, जिलाध्यक्ष

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned