scriptCG Politics: छत्तीसगढ़ को आगे बढ़ाने में लगे सांसद और मंत्री, दिल्ली की NCR की तरह यहां बनेगा SCR | CG Politics: MPs works for SCR in chhattisgarh | Patrika News
रायपुर

CG Politics: छत्तीसगढ़ को आगे बढ़ाने में लगे सांसद और मंत्री, दिल्ली की NCR की तरह यहां बनेगा SCR

CG Politics: प्रदेश के सांसदों के साथ आवास व शहरी विकास राज्यमंत्री भी प्रदेश सरकार के पक्ष में खड़े दिखाई दे रहे हैं। केंद्रीय राज्यमंत्री साहू का कहना है कि स्टेट कैपिटल रीजन के लिए प्रदेश सरकार प्राथमिकता से काम कर रही है।

रायपुरJul 06, 2024 / 11:53 am

Kanakdurga jha

CG Politics
CG Politics: छत्तीसगढ़ में दिल्ली (एनसीआर) की तरह स्टेट कैपिटल रीजन (एससीआर) बनाने के लिए अब सांसद भी अपना जोर लगाएंगे। तोखन साहू के आवास व शहरी विकास राज्यमंत्री बनाने से इसकी उम्मीदें बढ़ गई है। इधर, प्रदेश सरकार भी अपने स्तर पर तैयारी कर रही है।
पिछले दिनों दिल्ली में केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ हुई बैठक में प्रदेश के वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने इसके लिए बजट भी मांगा है। यदि डबल इंजन की सरकार में एससीआर की सौगात मिल जाती है, तो इससे आर्थिक विकास में तेजी आने के साथ-साथ युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।
यह भी पढ़ें

CG Politics: नितिन नबीन बने छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी, इन नेताओं को भी मिली बड़ी जिम्मेदारी…

इस मुद्दे पर प्रदेश के सांसदों के साथ आवास व शहरी विकास राज्यमंत्री भी प्रदेश सरकार के पक्ष में खड़े दिखाई दे रहे हैं। केंद्रीय राज्यमंत्री साहू का कहना है कि स्टेट कैपिटल रीजन के लिए प्रदेश सरकार प्राथमिकता से काम कर रही है। राज्य सरकार के प्रस्ताव पर हम सब मिलकर काम करेंगे। हमारी प्राथमिकता प्रदेश का विकास है।
उन्होंने कहा, राज्य सरकार अपने 100 दिन के कामों का लक्ष्य लेकर चल रही है। आने वाले दिनों में इसका बड़ा असर दिखाई देगा। बता दें कि विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में स्टेट कैपिटल रीजन बनाने का वादा किया था। भाजपा के घोषणा पत्र के संयोजक विजय बघेल वर्तमान में दुर्ग लोकसभा क्षेत्र से दूसरी बार सांसद निर्वाचित हुए हैं।

छत्तीसगढ़ सरकार की 2020 से 2024 तक रायपुर को राज्य की राजधानी क्षेत्र के रूप में विकसित करने की योजना ऐसे कर ही काम

CG Politics
यहां छत्तीसगढ़ सरकार की 2020 से 2024 तक रायपुर को राज्य की राजधानी क्षेत्र के रूप में विकसित करने की योजना को दर्शाने वाला एक चार्ट दिया गया है। चार्ट में बजट आवंटन, बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की संख्या, सृजित रोजगार के अवसर और निर्दिष्ट वर्षों के दौरान शहरी विकास सूचकांक के आंकड़े शामिल हैं।

CG Politics: ऐसे बनेगा स्टेट कैपिटल रीजन

स्टेट कैपिटल रीजन में रायपुर, नवा रायपुर, दुर्ग, भिलाई शहरों को शामिल किया जाएगा। आवास एवं पर्यावरण मंत्री ओपी चौधरी के बयान के मुताबिक रायपुर, नवा रायपुर, दुर्ग व भिलाई शहरों को एससीआर योजना के तहत जोड़ा जाएगा। जिसके लिए संबंधित विभागों द्वारा एससीआर योजना व डीपीआर बनाने की तैयारी चल रही है।

चारों शहरों का तेजी से होगा विकास

एससीआर योजना के तहत चारों शहरों का विकास तेजी से किया जाएगा। लोगों के लिए बेहतर सुविधाओं के साथ-साथ रोजगार के लिए भी अवसर बढ़ेंगे। दिल्ली मेट्रो की तरह इन शहरों में भी लाइट मेट्रो चलाने की योजना है। जिसमे लगभग 400 करोड़ रुपए का खर्चा होने का अनुमान है।

CG Politics: यह होगा फायदा

  • – स्टेट कैपिटल रीजन बनाने के फायदें शहरों के विकास में गति आएगी।
  • – महानगर बनाने से रोजगार के नए अवसर निर्मित होंगे।
  • – व्यापार और उद्योगाें के कामों तेजी आएगी।
  • – आम जनता को सस्ती परिवहन की सुविधा मिलेगी।
  • – राज्य सरकार के राजस्व में भी वृद्धि होगी।
केंद्रीय राज्यमंत्री तोखन साहू ने कहा – केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार है। इसका फायदा प्रदेश के लोगों को मिलेगा। राज्य सरकार को केंद्र सरकार से जो भी सहयोग चाहिए, उसके लिए अलग से प्रयास किया जाएगा।
दुर्ग सांसद विजय बघेल ने कहा – प्रदेश सरकार के साथ मिलकर स्टेट कैपिटल रीजन के लिए प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा छत्तीसगढ़ के हित से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर भी केंद्र सरकार के साथ समन्वय बैठाकर काम करेंगे, ताकि प्रदेश के लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ हो।

Hindi News/ Raipur / CG Politics: छत्तीसगढ़ को आगे बढ़ाने में लगे सांसद और मंत्री, दिल्ली की NCR की तरह यहां बनेगा SCR

ट्रेंडिंग वीडियो