जोगी को लगा एक और झटका, राकेश ठाकुर पार्टी छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल

जोगी को लगा एक और  झटका, राकेश ठाकुर पार्टी छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल

Ashish Gupta | Publish: Sep, 07 2018 03:45:34 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव निकट आते देख प्रदेश में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई है। दल-बदल का सिलसिला भी शुरू हो गया है।

रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव निकट आते देख प्रदेश में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई है। दल-बदल का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इसी के तहत प्रदेश में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ पार्टी के नेता राकेश ठाकुर शुक्रवार को कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। राकेश ठाकुर जोगी कांग्रेस के लिए पाटन क्षेत्र सक्रिय थे। हालांकि राकेश ठाकुर के पार्टी छोडऩे का कारण नहीं पता चल पाया है। लेकिन माना जा रहा है कि राकेश ठाकुर ने अपनी उपेक्षा होने के कारण पार्टी छोड़ दी है।

बतादें कि अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने दुर्ग संभाग के पाटन विधानसभा सीट के लिए उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। पार्टी ने पाटन विधानसभा सीट के लिए महिला प्रत्याशी शकुंतला साहू को प्रत्याशी बनाया है। जोगी कांग्रेस छत्तीसगढ़ की प्रदेश महासचिव शकुंतला साहू कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल को टक्कर देंगी।

इससे पहले जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ को अगस्त महीने में दो बड़े झटके लगे। डौंडीलोहारा के पूर्व विधायक डोमेन्द्र भेडि़या ने अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ से नाता तोड़ कर फिर कांग्रेस में शामिल हो गए। जबकि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ युवा विंग के प्रदेश अध्यक्ष रहे विनोद तिवारी ने जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ को छोड़ अजीत जोगी को तगड़ा झटका दिया।

इस दौरान विनोद तिवारी ने पार्टी छोडऩे के लिए अमित जोगी को जिम्मेदार बताया। विनोद तिवारी ने बताया कि उन्होंने अमित जोगी की वजह से पार्टी छोड़ी। विनोद तिवारी ने पत्रिका से बातचीत में कहा, अजीत जोगी के बीमार पडऩे के बाद से विधायक अमित जोगी संगठन को मनमर्जी से चला रहे हैं।

अब पार्टी में अनुशासन नाम की कोई चीज नहीं बची। वरिष्ठों का भी सम्मान नहीं है। इसकी वजह से अब वहां रहने का कोई मतलब नहीं बचा है। अमित जोगी ने इन आरोपों पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है। हालांकि जकांछ के प्रदेश प्रवक्ता सुब्रत डे ने विनोद के कदम को धोखा बताया है।

उन्होंने कहा, जोगी परिवार ने विनोद को सदैव परिवार का सदस्य माना, लेकिन उन्होंने चुनाव पूर्व अपने राजनीतिक लालसाओं और अनैतिक इच्छाओं की पूर्ति के लिए पार्टी को धोखा दिया। डे ने कहा, विनोद तिवारी ने साबित कर दिया कि सांप को कितना भी दूध पिलाओ वह अंत में काटेगा ही। पिछले महीने जकांछ छोड़कर कांग्रेस जाने वाले कोर कमेटी सदस्य चंद्रिका साहू ने भी ऐसा ही आरोप लगाया था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned