scriptCG will get 3000 crore Rs after excellent performance in cleanliness | स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के बाद अब छत्तीसगढ़ को मिलेंगे तीन हजार करोड़ रुपए | Patrika News

स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के बाद अब छत्तीसगढ़ को मिलेंगे तीन हजार करोड़ रुपए

स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के बाद अब छत्तीसगढ़ को स्वच्छ भारत मिशन (Swachh Bharat Mission) के तहत और बेहतर कार्य करने के लिए करीब 3 हजार करोड़ रुपए केंद्र सरकार से मिलेगा।

रायपुर

Published: November 27, 2021 09:12:01 pm

रायपुर. स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के बाद अब छत्तीसगढ़ को स्वच्छ भारत मिशन (Swachh Bharat Mission) के तहत और बेहतर कार्य करने के लिए करीब 3 हजार करोड़ रुपए केंद्र सरकार से मिलेगा। इस राशि को पांच साल में स्वच्छता पर ही खर्च करना होगा। जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार ने स्वच्छता अभियान का बजट देशभर के लिए 36 हजार करोड़ रुपए प्रावधान किया है।
ghadi_chowk_2999780_835x547-m.jpg
स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के बाद अब छत्तीसगढ़ को मिलेंगे तीन हजार करोड़ रुपए
जिसमें तीन हजार करोड़ छत्तीसगढ़ को मिलेगा। यह राशि अगले वित्तीय वर्ष में राज्य सरकार को मिलेगी। इसके बाद सभी निकायों को वार्डों की संख्या के आधार पर राशि आवंटित की जाएगी। साथ ही केंद्र सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले निर्देश का सख्ती से पालन करना होगा। इस राशि की उपयोगिता प्रमाण पत्र भी समय-समय पर केंद्र को भेजनी होगी।
2022 की गाइड लाइन भी जारी
वर्ष 2022 में स्वच्छता सर्वेक्षण का पैमान क्या रहेगा। किस-किस सेंगेमेंट में कितने नंबर दिए जाएंगे इसकी पूरी गाइड लाइन राज्य को भी दी गई है। जिसे नगरीय प्रशासन विभाग ने सभी निकायों को गाइडल लाइन भेजकर इसी के हिसाब से वर्ष 2022 के स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लेने के निर्देश दिए है। जानकारी के अनुसार इस बार की थीम पब्लिक पहले रखी गई है।
छत्तीसगढ़ सूडा के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर सुरेंद्र मृगा ने कहा, केंद्र से स्वच्छ भारत मिशन के तहत निकायों में बेहतर कार्य करने के लिए अगले पांच साल के लिए करीब 3 हजार करोड़ रुपए मिलने का अनुमान है। अगले वित्तीय वर्ष में राशि मिलने की पूरी उम्मीद है।
इस बार का ये हैं पैमाना
कुल अंक- 75001
1. सर्विस लेवल प्रोग्रेस - 3000 अंक (40फीसदी)
- ( कचरा अलग करना, प्रोसेसिंग, निपटान, सस्टेनेबल सेनिटेशन, सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज, डिजिटल टै्रकिंग एवं लर्निंग)
2. सर्टिफिकेशन - 2250 अंक (30 फीसदी)
(जीएफसी स्टार रेटिंग में 1250 अंक, वाटर प्लस सिटी में 1000 अंक)
3. पीपल फर्स्ट में - 2250 अंक ( 30 फीसदी)
( नागरिक फीडबैक, नागरिक इंगेजमेंट, अनुभव, स्वच्छता एप, एपिडेमिक नियंत्रण, तैयारी एवं इनोवेशन/ नया उपक्रम)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.