12वीं बोर्ड की परीक्षा कल से, विभाग ने किए उत्तर पुस्तिका में बदलाव, जानें क्या...

CGBSE Exam: 12वीं की परीक्षा दो से 31 मार्च तक चलेगी और 10वीं की परीक्षा तीन से 26 मार्च तक चलेगी।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 01 Mar 2020, 07:53 PM IST

CGBSE Exam: रायपुर। छत्तीसगढ़ में होने वाले 10वीं,12वीं की मुख्य परीक्षा कल से प्रारंभ होनी हैं। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है। दो मार्च से 12वीं की परीक्षा शुरू है जो हिंदी के पर्चे से शुरू हो रही है। 12वीं की परीक्षा दो से 31 मार्च तक चलेगी और 10वीं की परीक्षा तीन से 26 मार्च तक चलेगी। 12वीं वोकेशनल की परीक्षा दो से 30 मार्च तक और शारीरिक प्रशिक्षण पत्रोपाधि प्रथम, द्वितीय वर्ष की परीक्षा दो से 14 मार्च तक चलेगी।

परीक्षा सुबह नौ बजे से 12ः30 बजे तक होगी। 10वीं में तीन लाख 92 हजार 68 और 12वीं में दो लाख 77 हजार 475 परिक्षार्थी सम्मिलित होंगे। इस वर्ष की परिक्षाओं में 32 पृष्ठीय उत्तरपुस्तिकाओं का उपयोग किया जा रहा है, लेकिन कक्षा 12वीं में भौतिक शास्त्र और गणित विषय में 40 पृष्ठ की उत्तरपुस्तिकाएं दी जाएंगी। पिछले साल सभी कॉपियां 40 पेज की थी। बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. आलोक शुक्ला और सचिव प्रो. वीके गोयल ने परीक्षार्थियों को परीक्षा से पहले बधाई दी है। माशिमं ने इस बार 77 नए केंद्र बनाए हैं, जबकि पांच केंद्रों को बंद कर दिया गया है। पिछली बार साल 2019 की परीक्षा के लिए 2231 केंद्र बनाए गए थे।

इस बार साल 2020 के लिए जिलों के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक व जिला शिक्षा अधिकारियों के अनुमोदन के बाद 77 नए केंद्र बनाए गए हैं । कुल परीक्षा केंद्र 2303 बनाए गए हैं। राजनांदगांव में सबसे अधिक 166 केंद्र और सुकमा में सबसे कम 13 केंद्र हैं। परीक्षा के लिए 126 केंद्र संवेदनशील और 60 केंद्र अति संवेदनशील हैं। रायपुर शहर में छात्रों के लिए 145 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। रायपुर में 10वीं में 24 हजार और 12वीं में 16 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे।

छह स्तर पर उड़नदस्ता दल गठित
माशिमं के निर्देश पर कलेक्टरों ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा 2020 (CGBSE Exam)में नकल प्रकरण को रोकने के लिए छह स्तर पर उड़नदस्ता दल गठित किया है। रायपुर में जिला स्तर पर एक टीम कलेक्टर की होगी तो दूसरी जिला स्तर पर जिला शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में टीम गठित होगी। रायपुर में आरंग,अभनपुर, तिल्दा और धरसींवा में एक-एक टीम निगरानी करेगी। इस टीम का नेतृत्व सभी विकासखंड शिक्षा अधिकारी करेंगे।

छात्रों को यह करना जरूरी है
बोर्ड ने विद्यार्थियों से अपील की है कि इन उत्तर पुस्तिकाओं के प्रश्नों को ध्यान में रखकर उत्तरपुस्तिकाओं में उत्तर लिखे, ताकि उन्हें उत्तर पुस्तिकाओं के पृष्ठों की कमी महसूस न हो। उत्तरपुस्तिकाओं में रफ कार्य करना हो तो वे उत्तर पुस्तिकाओं के अंतिम पृष्ठ में करें और रफ कार्य को तिरछी लाइन से काट दे। उत्तरपुस्तिका के प्रथम पृष्ठ के (ए) भाग में विद्यार्थी का नाम, रोल नंबर, विषय एवं परीक्षा तिथि आदि मुद्रित रहेगी।

पहले से ही लिखा रहेगा रोल नंबर
उत्तर-पुस्तिका में पहले से ही रोल नंबर लिखा रहेगा। छात्र सर्वप्रथम उत्तर पुस्तिका में मुद्रित जानकारी का प्रवेश पत्र से मिलान कर लें और मिलान उपरांत निर्धारित स्थान पर अपने हस्ताक्षर करें। प्रश्न का उत्तर देते समय विद्यार्थियों इस बात का विशेष ध्यान रखे की उत्तर पुस्तिका में प्रश्न लिखने की आवश्यकता नहीं है, जिस प्रश्न को हल कर रहे है, उसका उत्तर क्रमांक अंकित कर उत्तर लिखे, जिससे पृष्ठ बचेंगे और सरल प्रश्नों के उत्तर पहले दे तथा कठिन प्रश्नों के उत्तर बाद में दे, इससे समय प्रबंधन होगा।

अतिरिक्त नहीं मिलेगी कॉपी
32 पृष्ठीय उत्तरपुस्तिकाओं का इस्तेमाल बच्चे कर सकेंगे। इन उत्तरपुस्तिकाओं के अतिरिक्त विद्यार्थियों को पूरक उत्तर पुस्तिका नहीं दी जाएंगी।

Click & Read More Chhattisgarh News.

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned