दुरगा देवी पूजा के परब नवरात

परस बिसेस

By: Gulal Verma

Published: 04 Oct 2021, 04:40 PM IST

हमर मानुस तन म 84 लाख योनी ल जानथन अउ वोइसनेे पोथी पुरान म साढ़े तैंतीस कोटी देवी-देवता ल हमन मानथन। जेमा पथरा, पहाड़, पानी, पेड़, नदिया, सूरज, चंदा, आकास, धरती, हवा, साधु-संत, रिसि-मुनि, जीव-जंतु तको ह सामिल हे। हमर 18 पुरान होथे। 12 ज्योतिरलिंग हमर देस म हे। वोइसने 51 सक्तिपीठ ल गिने हे जउन ह अभी भारत के संग पाकिस्तान, सिरीलंका, नेपाल, बांग्लादेस म 8 सक्तिपीठ स्थित हे। बछर म चार नवरात होथे, फेर हमन दू नवरात ल जानथन। काबर कि दू नवरात ह गुप्त रहिथे।
चइत अउ कुंवार म सब्बो देवी दुरगा सक्तिपीठ मंदिर म तेल-घी के जोत जलथे। भगतमन नौ दिन ले उपवास रहिथे, दुर्गा सप्तसती पाठ करथे, जंवारा बोथे अउ नौ दिन ले भागवत के संग भजन-कीरतन , जसगीत, रमायना तको होथे। संसार बस म दू चीज हावय। सिवसक्ति जेमा तीनो ंलोक,14 भुवन, 10 दिसा, सप्त पुरी, 11 रूद्र, 12 आदित्य, 14 मनु, 14 रत्न, 14 इन्द्र, 14 मनवंतर, 7 खंड ह सामिल हे। मां दुरगा के नौ रूप ह।े जेमा नौ दिन ले अलग-अलग देवी माता के पूजा पाठ होथे। सबसे पहिली माता हे सैलपुत्री, बरम्हचारनी चन्द्रघंटा, कुस्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी नौवा सिद्धीदात्री हे। दुरगा सप्तसती म मां दुरगा के 108 नाम के गिनती हावय।
नवरात म नौ दिन तक पूजा-पाठ करके कुवारी कन्या भोजन, बाम्हन भोजन, हवन, कपिला तरपन संग सहस्त्र धारा होथे। नौ बछर ले कम कन्यामन ल सबसे पहली वोकर पांव ल धो के पोछथें, फेर आल्ता लगाथे। माथा म बिंदी, आंखी म काजर, मुड़ी म तेल लगाके उनकर कंघी करके बेनी ल बांधथे। हाथ म मेहंदी, पांव म पायल, कान म झुमका, नख म पालिस, हाथ म चुरी, गला म हाथ, कमर म करधनी, अंगरी म मुंंदरी, मुंह म पान, कान म कुंडल चुनरी ओठाके नाक म नथनी लगाके कन्या के 16 सिंगार करथें। भगति म अतका सक्ति होथे कि 9 दिन तक मनखेमन अपन तन म भुइंया म सुत के जंवारा ल बोथे अउ दुबी के रस ल पी के काट देथे। कोनो कोनो नौ दिन ले मुक्का तको उपवास रहिथे।
देवी दुरगा के उपवास ल बढ़ नियम-धरम ले माने जाथे। सूरज उगे के पहिली उठ के पूजा भुइंया म सुतथे, पति-पत्नी नौ दिन तक साथ संग म नइ रहय। घर म अखंड जोत तीर सुते ल पढ़थे। माता सक्ति ह कई रूप म अवतार लेय हे, फेर हमर पोथी-पुरान, देवी भागवत म दूठन रूप के जादा चरचा होथे।

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned