Chaturmas 2020: भगवान पांच महीने करेंगे विश्राम, शुभ मुहूर्त पर लगेगा ब्रेक

चातुर्मास (Chaturmas 2020) एक जुलाई से प्रारंभ होते ही देवता 148 दिन यानी करीब 5 महीने के लिए विश्राम पर चले जाएंगे। इसके साथ ही शुभ मुहूर्त पर भी ब्रेक लग जाएगा। शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्यक्रम नहीं होंगे।

By: Ashish Gupta

Published: 29 Jun 2020, 06:00 AM IST

रायपुर. चातुर्मास (Chaturmas 2020) एक जुलाई से प्रारंभ होते ही देवता 148 दिन यानी करीब 5 महीने के लिए विश्राम पर चले जाएंगे। इसके साथ ही शुभ मुहूर्त पर भी ब्रेक लग जाएगा। शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्यक्रम नहीं होंगे। पंडितों के अनुसार इस बार 18 सितंबर से 16 अक्टूबर तक पुरुषोत्तम मास यानी कि अधिक मास होने के कारण साधु-साध्वियां एक स्थान पर 5 महीने चातुर्मास करेंगे।

लोक परंपरा के तीज-त्यौहार की बहारों में लोग रचे बसे नजर आएंगे। 20 जुलाई को हरेली महोत्सव है तो 25 जुलाई को नागपंचमी पर्व पर दंगल का रोमांच देखने को मिलेगा। चातुर्मास (Chaturmas 2020) काल में लोग साधु-साध्वियों की धर्म चर्चाओं का लाभ लेंगे। पूरे सावन मास में शिवालय महीने भर तक देवों के देव महादेव के जयकारे से गुंजित होंगे।

6 जुलाई से भगवान शिव का सबसे प्रिय मास सावन प्रारंभ होने जा रहा है। फिर भगवान भोले बाबा का जलाभिषेक, दुग्ध अभिषेक और रुद्राभिषेक करने के लिए भक्तों का शिवालयों में तांता लगेगा।

नाग पंचमी पर सजेंगे अखाड़े
25 जुलाई को नागपंचमी (Nag Panchami 2020) का उत्सव मनेगा। अखाड़ों में छोटे-बड़े पहलवान दांवपेंच का प्रदर्शन करते हैं, जिसे देखने के लिए भीड़ जुटती है। इस बार लोक पर्व के जश्न पर कोरोना संकट बाधा बना हुआ है।

जन्माष्टमी महोत्सव दो दिन
पंडित मनोज शुक्ला के अनुसार इस बार जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) महोत्सव 2 दिन मनेगा। 11 अगस्त को व्रत पूजन जन्माष्टमी और 12 अगस्त को भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव की धूम राधाकृष्ण मंदिरों में रहेगी।

हरतालिका व्रत 21 अगस्त और गणेश चतुर्थी 22 से
अगस्त महीने में 21 तारीख को हरतालिका व्रत सुहागिनें निर्जला रखकर रात्रि जागरण कर पति की दीर्घायु की कामना करेंगी। इसके दूसरे दिन 22 अगस्त से गणेश उत्सव प्रारंभ होगा, जो अनंत चतुर्दशी तक चलेगा।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned