scriptchaya, bhojan, peyjal ki pryapt vyavstha nhi, log huye preshan | अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ मुख्यमंत्री कन्या विवाह, 18 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में | Patrika News

अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ मुख्यमंत्री कन्या विवाह, 18 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में

गुरुवार को सिमगा के बालक हायर सेकंडरी स्कूल में महिला बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत ब्लॉक के 18 जोड़ों का विवाह संपन्न कराया गया। इतनी भीषण गर्मी में केवल एक पंडाल लगाकर विवाह संपन्न कर दिया गया। पंखे की व्यवस्था नहीं की गई।

रायपुर

Published: April 29, 2022 04:59:44 pm

अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ मुख्यमंत्री कन्या विवाह, 18 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में
छांव, भोजन व पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था नहीं, दूल्हा-दुल्हन व परिजनों हुए परेशान
सिमगा। गुरुवार को सिमगा के बालक हायर सेकंडरी स्कूल में महिला बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत ब्लॉक के 18 जोड़ों का विवाह संपन्न कराया गया। कार्यक्रम में महिला बाल विकास विभाग द्वारा न किसी जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और न ही पत्रकारों को आमंत्रित किया गया। इतनी भीषण गर्मी में केवल एक पंडाल लगाकर विवाह संपन्न कर दिया गया। पंखे की व्यवस्था नहीं की गई। दूल्हा-दुल्हन के साथ आए हुए परिवार के लोगों के लिए छाया भी ठीक से नसीब नहीं था। परिजन गर्मी में परेशान होकर इधर-उधर भटकते रहे। पीने के पानी के नाम पर एक टैंकर बुला कर रख दिया गया था, जो धूप में रखे-रखे गरम हो गया थे।
ज्ञात हो कि सिमगा नगर पंचायत में कई शासकीय सामुदायिक भवन उपलब्ध हैं, जहां छाया की पर्याप्त व्यवस्था है। लेकिन कार्यक्रम यहां नहीं कर स्कूल में किया गया। मुख्यमंत्री सामूहिक कन्या विवाह शासन की महती योजना में से एक है जिसके लिए शासन की ओर से प्रति जोड़ें के पीछे 25000 रुपए का अनुदान दिया जाता है। जिसमें से 19000 हजार रुपए की सामग्री, 1000 रुपए नकद या चेक व 5000 रुपए विवाह की व्यवस्था के लिए दिया जाता है। लेकिन यहां पर देखने में आया कि19 हजार रुपए जिस सामग्री के लिए दिया गया है, उसमें सभी सामान स्तरहीन है। जिसकी अनुमानित राशि लगभग पांच हजार से अधिक की नहीं होगी। कार्यक्रम में शामिल लोगों के लिए खाने की व्यवस्था भी सही तरीके से नहीं की गई।
भोजन के व्यवस्थापक द्वारा बताया गया कि 600 लोगों के लिए नाश्ते व भोजन का प्रबंध किया गया है। लेकिन वर-वधु दोनों पक्षों से पूछने पर पाया गया 100 लोगों से ज्यादा को तो नाश्ता ही नहीं मिला। खाने में मीठे के रूप में 600 लोगों के लिए मात्र 3 लीटर दूध से खीर की व्यवस्था की गई, जो काफी कम है। जब भोजन व्यवस्था करने वालों से पूछा गया कि इतने कम सामान में 600 लोगों की खाने की व्यवस्था कैसे होगी तो उन्होंने बताया परियोजना अधिकारी श्रेष्ठ संभारकर के निर्देश पर यह सारी व्यवस्था की जा रही है। उक्त सामूहिक विवाह कार्यक्रम की व्यवस्था के लिए लगभग एक लाख का फंड है, लेकिन खर्च बहुत कम किए गए हैं।
---
अव्यवस्था की शिकायत के बारे में उच्च अधिकारियों को अवगत कराऊंगा और जो भी उचित कार्रवाई होगी, जांच कर की जाएगी।
- टी. आर. महेश्वरी, अनुविभागीय अधिकारी
अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ मुख्यमंत्री कन्या विवाह, 18 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में
अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ मुख्यमंत्री कन्या विवाह, 18 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.