CM भूपेश बोले- असम में रमन की दिखी खराब दुर्दाशा, फेसबुक में भी नहीं मिली जगह

- कहा-भाजपा अंग्रेजों को मानने वाली, बार-बार नहीं चढ़ती काठ की हांडी
- असम से लौटते ही भाजपा, आरएसएस और पीएम पर किया तीखा हमला

By: Ashish Gupta

Published: 28 Mar 2021, 12:12 PM IST

रायपुर. असम विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Elections 2021) में मैराथन प्रचार और तिरुपति बालाजी के दर्शन कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) शनिवार को रायपुर लौटे। मुख्यमंत्री असम चुनाव में जीत को लेकर उत्साहित नजर आए। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह (Former Chhattisgarh CM Raman Singh) सहित भाजपा, आरएसएस और प्रधानमंत्री पर जमकर हमला भी बोला।

रमन के बयान पर पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, जब रमन सिंह डिब्रूगढ़ गए थे, तब मैं भी वहीं था। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष है बेचारे, लेकिन वहां भाजपा के ऑफिशिल फेसबुक पेज पर उन्हें स्थान नहीं मिला। पार्टी में उनकी दुर्दशा है, मैं उनकी क्या बात करूं। भाजपा को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा, जब वे विपक्ष में थे, तो कहते थे कि पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए। सत्ता में आने के बाद जनप्रतिनिधियों के अधिकारों में कटौती कर दी।

यह भी पढें: तिरुपति से लौटे CM भूपेश ने RSS पर साधा निशाना, पीएम मोदी को लेकर कही ये बड़ी बात

उन्होंने कहा, यह अंग्रेजों के मानने वाले लोग हैं। फूट डालो और राज करो की नीति को पकड़े हुए हैं। काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती है। हर जगह एक ही फार्मूला काम नहीं करेगा। जब असम में आपकी सरकार है, तो आप को अपनी उपलब्धि बताना चाहिए। वो बताना छोड़कर केवल अजमल का भय दिखा रहे हैं। भय दिखाकर राजनीति नहीं कर सकते, दिल जीतकर राजनीति होनी चाहिए।

रमन ने राहुल-भूपेश पर कसा था तंज
बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने एक ट्वीट कर राहुल गांधी और भूपेश बघेल पर तंज कसा था। उन्होंने ट्वीट में लिखा था कि कांग्रेस की पांच गारंटियों का तो पता नहीं, लेकिन इस गारंटी की पूरी गारंटी है कि देश में राहुल गांधी और भूपेश बघेल जहां-जहां चुनाव प्रचार के लिए गए, वहां-वहां भाजपा की ही सरकार बनी। इसलिए असम और बंगाल में जीत सुनिश्चित है।

यह भी पढें: CM और राज्यपाल ने रंगपर्व की दी शुभकामनाएं, बोले- सावधानी बरतें और घर में मनाएं होली

प्रधानमंत्री को बताया सबसे तेज फेंकने वाला
प्रधानमंत्री ने बांग्लादेश की आजादी के लिए सत्याग्रह करने का दावा किया है। पीएम का यह दावा काफी चर्चा में है। इसे लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि जो तेज गेंदबाज होते हैं न, उनसे भी ज्यादा तेज फेंकते हैं। आज जिस प्रकार से बातें हो रही है, उससे अब लोगों ने विश्वास करना छोड़ दिया है। विदेश में जाकर इस तरह की बात कहना हास्यास्पद है। बहुत दिनों और कोरोना काल के बाद प्रधानमंत्री जी वो विदेश यात्रा पर गए और फेंकना शुरू किए कि वो सबके ऊपर से गया।

राहुल के बयान का किया समर्थन
मुख्यमंत्री बघेल ने आरएसएस को लेकर राहुल गांधी की ओर से दिए गए बयान का समर्थन किया है। उन्होंने कहा, आरएसएस में महिलाओं के लिए कोई स्थान नहीं है। जो आधी आबादी है, उसमें से आरएसएस में कोई पदाधिकारी होता है क्या? ये जो महिला विरोधी मानसिकता है, उसके कारण राहुल गांधी ने अपना बयान दिया है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned