दुकानदार नमक या किसी भी खाद्य सामग्री की जमाखोरी या एमआरपी रेट से ज्यादा में बिक्री कर रहा है तो यहां करें शिकायत

राजधानी में गुजरात से नमक के रैक समय पर पहुंच रहे हैं

By: ashutosh kumar

Updated: 16 May 2020, 08:27 PM IST

रायपुर. राजधानी रायपुर में नमक की कालाबाजारी अब भी जारी है। प्रशासन की ओर से लगातार इसे लेकर कार्रवाई की जा रही है। बावजूद इसके कालाबाजारी थमने का नाम नहीं ले रही है। अब भी कई किराना दुकानदार नमक नहीं होने की बात कह रहे हैं। जबकि पिछले कुछ दिनों में नमक की कालाबाजारी की जांच करने के लिए प्रशासनिक अमले ने कमर कस ली और कई किराना दुकानों में छापामार कार्रवाई कर उनसे हजारों रुपए का जुर्माना भी वसूल किया। अगर इसके बावजूद कोई भी दुकानदार ज्यादा कीमत में नमक बेच रहा है या नमक नहीं होने की बात कह रहा है तो उसकी सीधी शिकायत एडीएफओ संजीव ठाकुर के मोबाइल नंबर 9009415415 और 6266419992 पर की जा सकती है। शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

इधर, खाद्य विभाग के अफसरों ने दावा किया है कि गुजरात से नमक के रैक समय पर पहुंच रहे हैं। इस हफ्ते नमक के तीन से पांच रैक छत्तीसगढ़ पहुंच चुके हैं। इसलिए स्टॉक पर्याप्त मात्रा में है। दूसरी ओर नमक के सभी थोक कारोबारियों के स्टॉक की भी हर दिन जांच की जा रही है।

शहर में नमक की कोई कमी नहीं
ऐसे में नमक के थोक और चिल्हर कारोबारियों को चेतावनी दी गई है कि वे नमक या किसी भी खाद्य सामग्री की जमाखोरी या एमआरपी रेट से ज्यादा में बिक्री करते पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज किए जाएंगे। अफसरों ने स्पष्ट किया है कि शहर के अलावा जिलेभर में कहीं भी नमक की कोई कमी नहीं है।
मालूम है कि प्रदेश में सोमवार से अचानक ही नमक खत्म होने अफवाह फैली थी। उसके बाद नमक की खरीददारी के लिए दुकानों में भीड़ लग गई और देखते ही देखते दो दिनों में लाखों पैकेट नमक बिक गया। उसके बाद से प्रशासन हरकत में आया और ऐसी अफवाह को गलत बताया और कहा था शहर के अलावा जिलेभर में कहीं भी नमक की कोई कमी नहीं है।

ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned