चुनाव जीतने पर भी 29 प्रत्याशी ऐसे होंगे जो पटाखे फोड़कर नहीं मना सकेंगे जीत का जश्न

चुनाव जीतने पर भी 29 प्रत्याशी ऐसे होंगे जो पटाखे फोड़कर नहीं मना सकेंगे जीत का जश्न

Anupam Rajiv Rajvaidya | Publish: Dec, 02 2018 07:30:00 AM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद रायपुर समेत छह बड़े शहरों में छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने पटाखे फोडऩे पर रोक लगा दी है।

राहुल जैन/ रायपुर . छत्तीसगढ़ में विधानसभा का चुनाव जीतने के बाद भी रायपुर समेत छह बड़े शहरों में प्रत्याशी पटाखे फोड़कर अपनी जीत का जश्न नहीं मना सकेंगे। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने 1 दिसम्बर से 31 जनवरी तक पटाखे फोडऩे पर रोक लगा दी है। बता दें कि 11 दिसम्बर को मतगणना और चुनाव परिणाम आना है।

29 सीटों के प्रत्याशी इन शहरों में नहीं फोड़ सकेंगे पटाखे
रायपुर में 7 विधानसभा सीट, बिलासपुर में 7, दुर्ग में 6, रायगढ़ में 5 और कोरबा में 4 विधानसभा सीटों की मतगणना 11 दिसम्बर को होगी। इस तरह 29 विधानसभा सीटों के विजयी प्रत्याशी और कार्यकर्ता-समर्थक इन शहरों में जीत का जश्न पटाखे फोड़कर नहीं मना सकेंगे। उधर, प्रशासन के सामने भी पर्यावरण संरक्षण मंडल के पटाखे फोडऩे पर प्रतिबंध संबंधी आदेश का पालन कराना बड़ी चुनौती होगी।

इन शहरों में लगी रोक
रायपुर
बिलासपुर
भिलाई
दुर्ग
रायगढ़
कोरबा

क्रिसमस और नववर्ष पर 35 मिनट आतिशबाजी की छूट
पर्यावरण संरक्षण मंडल से जारी आदेश में यह भी स्पष्ट किया गया है कि क्रिसमस और नए साल के दिन आतिशबाजी करने के लिए 35 मिनट की छूट जाएगी। यानी इन छह बड़े शहरों में क्रिसमस और नए साल पर रात 11.55 से 12.30 बजे तक पटाखे चलाए जा सकेंगे। ठंड में वायु प्रदूषण को निर्धारित मापदंडों के अनुरूप बनाए रखने के लिए पिछले वर्ष भी यह फैसला किया गया था। मालूम हो कि वायु प्रदूषण अधिनियम-1981 के अंतर्गत सम्पूर्ण वायु प्रदूषण नियंत्रण क्षेत्र घोषित है। इसी के तहत पिछले वर्ष पर्यावरण विभाग द्वारा वायु (प्रदूषण निवारण और नियंत्रण) अधिनियम 1981 की धारा 19(5) में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए यह निर्णय लिया था।

इनकी याचिका की वजह से लगी रोक
बढ़ते वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने रिट पिटीशन (सिविल) क्रमांक 728/2015 अर्जुन गोपाल विरूद्ध यूनियन ऑफ इंडिया में पटाखों के उपयोग के संबंध में महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश जारी किए गए थे। इसी के तहत यह आदेश जारी किया गया है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned