इस बार शासकीय कर्मचारियों को वेतन के लिए करना पड़ सकता है लंबा इंतजार

राज्य के शासकीय कर्मचारियों को इस बार वेतन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। कोरोना वायरस के चलते राजस्व वसूली प्रभावित हुई है।

रायपुर. राज्य के शासकीय कर्मचारियों को इस बार वेतन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। कोरोना वायरस के चलते राजस्व वसूली प्रभावित हुई है। वहीं अधिकांश दफ्तरों में अघोषित अवकाश के कारण फाइलों के ढेर लगे हुए हैं। उन्हें दिए जाने वाले वेतन और आयकर की कटौती की सूची तक नहीं बन पाई है। हालांकि विभागीय अधिकारी इसे तैयार करने में जुटे हुए हैं। इसे जल्द ही जिला कोषालय भेजे जाने की संभावना विभागीय अधिकारियों द्वारा जताई जा रही है।

राज्य कोषालय के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि अप्रैल महीने में शासकीय कर्मचारियों के वेतन की कटौती और अतिरिक्त राशि के भुगतान को देखते हुए विलंब होता है। बता दें कि राज्य के सभी शासकीय कर्मचारियों को प्रति माह 2 अप्रैल तक वेतन का भुगतान कर दिया जाता है। यह राशि उन्हें खाते में ऑनलाइन जमा कराई जाती है, लेकिन अप्रैल 2019 में एक साथ सभी विभागों के बिल जमा होने और अचानक सर्वर के बैठने के कारण उन्हें विलंब के वेतन का भुगतान किया गया था।

इतने सरकारी विभाग
छत्तीसगढ़ में 46 शासकीय विभागों में कार्यरत सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को जिला कोषालय के माध्यम से वेतन का भुगतान होता है। इसे संबंधित विभाग तैयार करने के बाद जिला कोषालय में ऑनलाइन रहते हैं। इसकी जांच करने के बाद खाते में वेतन और टीए-डीए और अन्य भत्ते जमा किए जाते हैं।

कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई
राज्य सरकार ने के निर्देश पर सभी विभाग में 31 मार्च तक अवकाश घोषित किया गया है, लेकिन अति आवश्यक सेवाओं को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए कुछ कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned