भूपेश सरकार ने RBI से फिर लिया 2000 करोड़ रुपए का कर्ज, छत्तीसगढ़ सरकार पर 4222 करोड़ रुपए का कर्ज

छत्तीसगढ़ सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) से दो हजार करोड़ रुपए का कर्ज फिर लिया है। इससे चालू वित्तीय वर्ष में आरबीआई के माध्यम से लिया गया कर्ज चार हजार करोड़ रुपए हो गया है।

रायपुर. छत्तीसगढ़ सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) से दो हजार करोड़ रुपए का कर्ज फिर लिया है। इससे चालू वित्तीय वर्ष में आरबीआई के माध्यम से लिया गया कर्ज चार हजार करोड़ रुपए हो गया है, जबकि कुल कर्ज चार हजार दो सौ 22 करोड़ रुपए हो गया है। सरकार इस राशि को आठ वर्ष में 7.18 फीसद ब्याज के साथ लौटाएगी।
वित्त मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार बीते डेढ़-दो वर्ष के दौरान यह पहला मौका है जब राज्य सरकार ने एक मुश्त दो हजार करोड़ रुपए का कर्ज लिया है। इससे पहले एक बार में अधिकतम एक हजार करोड़ कर्ज ही लिया गया है। वित्त विभाग के अफसरों के अनुसार इस राशि का उपयोग अधोसंरचना और अन्य विकास कार्यों में किया जाएगा। बीते 11 महीने में राज्य पर कर्ज का भार बढ़कर 13,343 करोड़ रुपए से अधिक हो गया है।
राज्य सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष में तीसरी बार कर्ज लिया है। इससे पहले अगस्त और सितंबर में एक-एक हजार करोड़ रुपए का कर्ज लिया था। इससे चालू वित्तीय वर्ष में आरबीआई के माध्यम से लिया गया कर्ज चार हजार करोड़ रुपए हो गया है, जबकि कुल कर्ज चार हजार दो सौ 22 करोड़ रुपए हो गया है।
बीते दिसंबर से अब तक राज्य सरकार ने आरबीआई के माध्यम से 12 हजार 400 करोड़ का कर्ज लिया है। वहीं राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक से 669.84 करोड़ और एशियन डेवलमेंट बैंक से 273.82 करोड़ रुपए समेत कुल 13 हजार 343 करोड़ रुपए का कर्ज ले चुकी है। विधानसभा में करीब सप्ताहभर पहले ही 4546 करोड़ रुपए का अनुपूरक बजट पास हो चुका है।

bhemendra yadav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned