CM रमन बोले - मुख्यमंत्री नहीं रहा तो सरपंच बनने में भी नहीं आएगी शर्म

Chandu Nirmalkar

Publish: Sep, 17 2017 08:58:18 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
CM रमन बोले - मुख्यमंत्री नहीं रहा तो सरपंच बनने में भी नहीं आएगी शर्म

प्रदेश में 5000 दिन का इतिहास रचने वाले मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अब सरपंच बनने को भी तैयार है

रायपुर. प्रदेश में 5000 दिन का इतिहास रचने वाले मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अब सरपंच बनने को भी तैयार है। 'स्वच्छता ही सेवा अभियान' के अंतर्गत रविवार को अभनपुर विकासखंड के ग्राम केंद्री में मॉडल ग्राम पंचायत भवन में उपलब्ध सुविधाओं को देखकर मुख्यमंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि यदि मुख्यमंत्री नहीं रहा तो ऐसे मॉडल पंचायत में सरपंच बनने में भी शर्म नहीं आएगी।

इससे पहले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने गांव में स्मार्ट पंचायत, आंगनबाड़ी और स्मार्ट स्कूल का उद्घाटन किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री के साथ मुख्यमंत्री ने वहां मॉडल पंचायत भवन में मौजूद मीटिंग हॉल, डिजिटल सेवा और ऑफिस को देखकर सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। केंद्रीय मंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अभनपुर विकासखंड में 10 दिनों के भीतर 10 हजार शौचालय का निर्माण देश ही नहीं बल्कि विश्व की एक बड़ी उपलब्धि है। पूरे देश में अब तक 2 लाख 36 हजार गांव खुले में शौचमुक्त घोषित हो चुके हैं।

अगले वर्ष तक खुले में शौच मुक्त होगा छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि 2 अक्टूबर 2018 तक छत्तीसगढ़ खुले में शौच मुक्त वाला राज्य बन जाएगा। अगले वर्ष खुले में शौचमुक्त राज्य की घोषणा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का न्यौता देंगे।

आरंग विकासखंड को 416 करोड़ रुपए की सौगात

केंद्री में आयोजित समारोह के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आरंग विकासखंड के अंर्तगत ग्राम मंदिरहसौद में 146 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर स्वच्छता ही सेवा अभियान के अंर्तगत लोगों को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई गई। आरंग क्षेत्र में विकास के लिए लगभग 44 करोड़ रुपए की लागत से पूर्ण हो चुके 15 निर्माण कार्यों का लोकार्पण और 102 करोड़ रुपए के 13 नए स्वीकृत निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया गया। इस मौके पर पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर, कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, सांसद रमेश बैस, अशोक बजाज आदि मौजूद थे।

केंद्रीय मंत्री के बयान का विरोध

कांग्रेस की राज्यसभा सांसद छाया वर्मा ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के उस बयान का विरोध किया है, जिसमें केंद्रीय मंत्री ने कहा कि खाने-पीने के सामान को हाथ लगाने व रसोई में जाने से पहले महिलाओं को अच्छी तरह से हाथ धोना चाहिए। इस पर छाया वर्मा ने कहा कि छत्तीसगढ़ की महिलाओं को यह बताने की जरूरत नहीं कि रसोई में जाने से पहले हाथ धोना चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि स्वच्छता को नजरअंदाज करने की वजह से देश में हर साल डायरिया की बीमारी से १ लाख लोगों की मृत्यु हो जाती

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned