महिला ने इंजीनियर के साथ की शर्मनाक करतूत, न चाह कर भी इंजीनियर को देने पड़े लाखों रुपए

महिला के झांसे में कार्यपालन अभियंता फसते चले गए और 15 दिन के भीतर दो किश्तों में 2 लाख रुपए खाते में जमा करा दिए।

रायपुर. आनलाइन ठगी का सिलसिला इस कदर बढ़ गया है कि इस जालसाजी के फेर में अब इंजीनियर जैसे लोग भी फंसते चले जा रहे है। ऐसा ही एक मामला रायपुर में सामने आया है। सिंचाई विभाग में पदस्थ कार्यपालन अभियंता सतीश जाधव को एक अज्ञात महिला ने अपनी बातों के जाल में फंसाकर आनलाइन ठगी का शिकार बनाते हुए 2 लाख रुपए ठग लिए। जानकारी के मुताबिक बंद बीमा पॉलिसी को चालू करने का झांसा देकर महिला ने दो लाख रुपए की ठगी कर ली।
कार्यपालन अभियंता जो रायपुर में इरीगेशन विभाग में पदस्थ हैं। मिली जानकारी के मुताबिक इंजीनियर की एक पॉलिसी एचडीएफसी बैंक से संचालित था, जो पिछले कुछ सालों से बंद हो गया था। पिछले कुछ दिनों से लगातार एचडीएफसी के कस्टमर केयर के नाम से एक महिला कार्यपालन अभियंता सतीश को फोन कर रही थी। लोक लुभावन आफर देते हुए युवती ने इंजीनियर को अपने जाल में फंसा लिया। महिला ने दावा किया कि वो बंद हो चुकी उसकी पॉलिसी को खोलवा सकती है, लेकिन इसके एवज में कुछ रकम जमा करनी होगी।
महिला के झांसे में कार्यपालन अभियंता फसते चले गए और उन्होंने सितंबर 2019 में 15 दिन के भीतर दो किश्तों में 2 लाख रुपए कार्यपालन अभियंता ने बताए हुए खाते में जमा करा दिए। इधर पैसे एकाउंट में आते ही महिला ने अपना मोबाइल बंद कर लिया। एक्यूकेटिव इंजीनियर की जब तमाम संपर्क करने की कोशिश बेकार हो गई, तो इस मामले में इंजीनियर ने थाने में जाकर शिकायत दर्ज कराई। खम्हारडीह थाने में दर्ज शिकायत के आधार पर फिलहाल जांच चल रही है।

Show More
bhemendra yadav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned