छत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 257 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्ट

छत्तीसगढ़ PHQ ने तत्काल प्रभाव से जारी किया प्रदेश भर के उप निरीक्षकों की तबादला सूचि।

रायपुर . छत्तीसगढ़ में तबादले का दौर अभी तक नहीं थमा है। कई प्रशासनिक ट्रांसफर के बाद आज पुलिस विभाग ने भी 257 सब इंस्पेक्टर का ट्रांसफर लिस्ट जारी कर दिया है। गुरुवार को सुबह चर्चे में रही इस विभाग की खबर जिसमे गलत प्रमोशन पाने वाले SI, ASI सहित छह पुलिसकर्मियों का डिमोशन कर दिया गया है। पुलिस विभाग ने इससे पहले SP सहित थानेदारों (T.I .) का तबादला लिस्ट भी जारी किया था।

मौसम विभाग के अनुसार 15 अक्टूबर से होगी प्रदेश में भारी बारिश के साथ मानसून की वापसी

सबइंस्पेक्टर ट्रांसफर सूचि :

छत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्टछत्तीसगढ़ पुलिस विभाग में हुआ थोक तबादला, 247 सब इंस्पेक्टर हुए इधर से उधर, यहां देखें लिस्ट

सुबह जारी हुए थे इनके आदेश
गलत प्रमोशन पाने वाले दो पुलिस अधिकारी समेत छह पुलिसकर्मियों का डिमोशन आदेश जारी किया है। दरअसल आउट ऑफ टार्न प्रमोशन को लेकर लगातार सवाल उठ रहे थे। जांच के बाद डीजीपी अवस्थी ने इस संबंध में बुधवार की देर रात आदेश निकाल कर इन सभी पुलिस (Chhattisgarh Police) अधिकारियों समेत पुलिसकर्मियों का डिमोशन आदेश जारी कर दिया गया। डीजीपी के इस बड़े एक्शन के बाद एएसआई के पद पर पदस्थ अधिकारी को फिर से हवलदार बना (Chhattisgarh DGP) दिया गया है।

लापता हुई महिला को खोजते हुए पुलिस पहुंची घर, पूछताछ में पति ने कहा- मारकर दफना दिया हूं डेड बॉडी

साल 2010 से 2015 के बीच हुआ ये खेल
आपको बता दें कि आउअ आफ टर्न प्रमोशन साल 2010 से 2015 के बीच हुए थे। जिसके बाद इनके आउट ऑफ टर्न प्रमोशन पर लगातार सवाल उठ रहे थे। इसके बाद मामले की जांच के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया गया था। पदोन्नति पाने वालों एक एएसआई, एक एसआई और 4 हवलदार शामिल हैं। पांच सदस्यीय टीम ने अपनी रिपोर्ट डीजीपी (Chhattisgarh DGP DM Awasthi ) को सौंपी जिसमें गलत प्रमोशन पाने के मामले को खुलासा हुआ।

काम की खबर: अब मकान मालिक को नहीं किराएदारों को मिलेगा पट्टा, विभाग ने जारी किया निर्देश

जांच रिपोर्ट में ऐसा बताया गया है कि ये प्रमोशन हुआ, तब ऐसी कोई स्थिति नहीं थी कि इन पुलिसकर्मियों का आउट ऑफ टर्न प्रमोशन किया जाए। किसी प्रमोशन के संबंध में किसी तरह की बैठक और न ही कोई अनुशंसा पाई गई। इन सब बातों के सामने आने के बाद डीजीपी डीएम अवस्थी ने इस संबंध में बुधवार की देर रात आदेश निकाल कर इन सभी पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों का डिमोशन आदेश जारी किया गया है।

इनका हुआ डिमोशन
एसआई अम्बरीश शर्मा का एएसआई के पद पर डिमोशन हुआ। एएसआई अंगनपल्ली गणपत राव को वापस हवलदार बनाने के जारी किया गया। हवालदार रंजीत पिल्ले को वापस बनाया आरक्षक बनाया गया। हवलदार अतुलेश राय और राकेश जाट समेत अवधेश यादव को आरक्षक बनाने के आदेश डीजीपी डीमएम अवस्थी ने जारी किया है।

Click & Read More Chhattisgarh News.

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned