Chhattisgarh Pollpedia - Episode 22 – कौन जीतेगा महासमुंद का जनाधार

Chhattisgarh Pollpedia – Episode 22 – Who will win Mahasamund mandate
March 15 2019
Lok Sabha CG 2019

By: Deepak Sahu

Updated: 15 Mar 2019, 06:04 PM IST

राजनीतिक दलों का प्रदर्शन
1) महासमुंद लोक सभा सीट 1952 में अस्तित्व में आया
2) महासमुंद संसदीय सीट पर कांग्रेस ने 11 बार जीत दर्ज की, भाजपा केवल तीन बार जीती
3) महासमुंद में एक-एक बार भारतीय लोक दल और जनता दल ने भी जीत का स्वाद चखा
4) महासमुंद को कांग्रेस का गढ़ बनाने में सबसे बड़ा हाथ विद्याचरण शुक्ला का रहा, उन्होंने इस सीट से छह बार जीत दर्ज की
5) विद्याचरण शुक्ला पांच बार कांग्रेस के बैनर तले और और एक बार जनता दल से महासमुंद में विजयी हुए

2014 आम चुनाव का परिणाम
1) 2014 आम चुनाव में महासमुंद सीट में 27 उम्मीदवार मैदान में थे
2) 2014 में भाजपा के चंदू लाल साहू ने कांग्रेस के अजीत जोगी को केवल 1217 वोटों से हराया था
3) चंदू लाल साहू को 503514 वोट तथा अजीत जोगी को 502297 वोट मिले
4) 2014 में महासमुंद सीट में भाजपा का 44.51 फीसदी और कांग्रेस का 44.40 फीसदी वोट शेयर था, अन्य सभी दलों का वोट शेयर 47.89 फीसदी था
5) पांच साल पहले महासमुंद लोक सभा सीट में कुल मतदाता थे 1516177, 49.97 प्रतिशत पुरुष और 50.02 प्रतिशत महिला वोटर थे
6) 2014 में महासमुंद में 74.61 फीसदी मतदान हुआ, कुल मतदाता थे 1131254, कुल पोलिंग स्टेशन थे 1937

 

महत्वपूर्ण तथ्य
1) महासमुंद लोक सभा सीट सामान्य वर्ग के लिए है
2) महासमुंद लोक सभा सीट के अंतर्गत आठ विधानसभा सीट हैं – सराईपाली, बसना, खल्लारी, महासमुंद, राजिम, बिन्द्रनावागढ़, कुरूद, धमतरी
3) हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने महासमुंद लोक सभा के अंतर्गत आठ में से पांच सीट पर जीत दर्ज की, भाजपा तीन मिले
4) महासमुंद लोक सभा सीट का कांग्रेस के चार बड़े नेताओं ने प्रतिनिधित्व किया
5) इस सीट से कांग्रेस के बड़े चेहरों में विद्याचरण शुक्ला, उनके बड़े भाई और अविभाजित मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्यामाचरण शुक्ला, संत पवन दीवान और अजीत जोगी थे
6) 1989 में विद्याचरण शुक्ल ने जनता दल से चुनाव लड़ा और कांग्रेस के संत पवन दीवान को हराया
7) 2004 में विद्याचरण शुक्ला भाजपा से लड़े, उनके खिलाफ कांग्रेस ने अजीत जोगी को उतारा, जोगी ने शुक्ला को 118505 वोट से हरा दिया
8) 2014 में कांग्रेस ने अजीत जोगी को महासमुंद से फिर उतारा, भाजपा ने आरोप लगाया कि जोगी ने उसके प्रत्याशी चंदू लाल साहू को हारने के लिए 10 और निर्दलीय चंदू लाल साहू को मैदान में उतार दिया
9) सभी दस निर्दलीय चंदू लाल साहू ने एक ही दिन अपना नामांकन दाखिल किया
10) भाजपा ने यह भी आरोप लगाया कि नामांकन भरने के बाद सभी निर्दलीय चंदू लाल साहू अंडरग्राउंड हो गए

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned