महिलाओं की सुरक्षा के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की अच्छी पहल सभी सवारी वाहनों में लगेगा पैनिक बटन, मिलेगी तत्काल मदद

  • इमरजेंसी में दबाने पर तुरंत मिलेगी मदद, सीधे कंट्रोल रूम से जुड़ेगा बटन

By: ashutosh kumar

Updated: 19 Jan 2021, 09:49 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में लगातार महिलाओं के साथ होने वाले जुर्मों को रोकने और कानून की मौजूदा हालत को बेहतर बनाने के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस ने बड़ी पहल की है। अब शहर यात्री वाहनों, बसों, टैक्सियों और ऑटो रिक्शा में पैनिक बटन लगाए जाएंगे। रायपुर में अब महिलाओं को मुसीबत के वक्त बस एक बटन दबाना होगा और उनको तुरंत मदद मिल जाएगी। इसके लिए किसी को अपना मोबाइल फोन भी इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा।
महिलाओं की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार जल्द ही यात्री वाहनों, बसों, टैक्सियों और ऑटो रिक्शा में पैनिक बटन लगाने जा रही है। यह बटन सीधे एकीकृत कमांड सेन्टर से जुड़ा रहेगा। महिलाओं को किसी भी प्रकार का खतरा होने पर बटन दबाते ही मैसेट कमांड सेंटर पहुंचेगा और वहां से पुलिस को तत्काल सूचना पहुंच जाएगी। इससे महिलाओं को समय पर मदद मिल सकेगी।
प्रभारी मुख्य सचिव सुब्रत साहू की अध्यक्षता में हुई राज्य स्तरीय सशक्त समिति की बैठक में परिवहन विभाग के इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस परियोजना के लिए बजट का इंतजाम निर्भया फंड से किया जाएगा। पैनिक बटन के लिए छत्तीसगढ़ से पहले मध्य प्रदेश और राजस्थान में पहले ही यह पहल शुरू हो गई है। राजस्थान में तो नए वाहनों के पंजीयन के लिए पैनिक बटन अनिवार्य कर दिया गया है।

महिलाओं की सुरक्षा के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की अच्छी पहल सभी सवारी वाहनों में लगेगा पैनिक बटन, मिलेगी तत्काल मदद
  • रात में भी यात्री कर सकेंगे सुरक्षित सफर
    विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पैनिक बटन सवारी वाहनों में एक निश्चित स्थान पर लगाया जाएगा। यात्रा के दौरान अगर किसी प्रकार की संकट की स्थिति हो तो इसे दबाते ही पुलिस तक सूचना पहुंचेगी। वाहनों में यह उस स्थान पर लगेगा जहां पर यात्री का हाथ आसानी से पहुंच सके। देर रात में भी यात्री सुरक्षित सफर कर सकें। कई बार उन्हें रात में यात्रा करने में भय रहता है।
ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned