गोधन न्याय के लिए मंत्रियों और संसदीय सचिवों को मिली जिम्मेदारी

  • हरेली पर्व पर 20 जुलाई को होगी गोधन न्याय योजना की शुरुआत
  • मुख्यमंत्री ने जिला स्तर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के लिए बनाए प्रभारी

By: Anupam Rajvaidya

Published: 18 Jul 2020, 11:27 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गोधन न्याय योजना के तहत विभिन्न जिलों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के लिए मंत्रियों, संसदीय सचिवों और प्राधिकरणों के अध्यक्षों को जिम्मेदारी सौंपी है। उन्हें इन कार्यक्रमों के लिए प्रभारी नियुक्त किया गया है। हरेली पर्व पर 20 जुलाई को गोधन न्याय योजना की शुरुआत की जा रही है।
ये भी पढ़ें...छत्तीसगढ़ में 56.32 लाख परिवारों को नवम्बर तक नि:शुल्क मिलेगा चना
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वयं कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया और संसदीय सचिव विकास उपाध्याय के साथ रायपुर जिले में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की कमान संभालेंगे। भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष दलेश्वर साहू के साथ दुर्ग जिले में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के भी प्रभारी हैं।
ये भी पढ़ें...दो रुपए किलो गोबर खरीदेगी सरकार, गोधन न्याय योजना की शुरुआत 20 जुलाई को
गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर गरियाबंद, आबकारी मंत्री कवासी लखमा और अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष भुवनेश्वर बघेल महासमुंद, स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव बलौदाबाजार-भाटापारा, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत बालोद, वन मंत्री मोहम्मद अकबर राजनांदगांव, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल रायगढ़, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के लिए राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, कांकेर के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार प्रभारी होंगे। विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी धमतरी, संसदीय सचिव कुंवरसिंह निषाद बेमेतरा, संसदीय सचिव गुरूदयाल सिंह बंजारे कबीरधाम, संसदीय सचिव शकुन्तला साहू बिलासपुर, संसदीय सचिव डॉ. रश्मि आशीष सिंह मुंगेली, संसदीय सचिव चंद्रदेव राय जांजगीर-चांपा, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम और मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लालजीत सिंह राठिया कोरबा जिले में आयोजित कार्यक्रमों के प्रभारी होंगे।
ये भी पढ़ें...छत्तीसगढ़ में 80 प्रतिशत उद्योगों में उत्पादन शुरू, डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों को मिला रोजगार
सरगुजा जिले में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के लिए संसदीय सचिव यू.डी. मिंज, कोरिया के लिए संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े, जशपुर के लिए संसदीय सचिव चिंतामणी महाराज और विधायक रामपुकार सिंह, सूरजपुर के लिए संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव और सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह, बलरामपुर-रामानुजगंज के लिए सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्षद्वय बृहस्पत सिंह और गुलाब कमरो, बस्तर के लिए संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी, कोंडागांव के लिए संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव, दंतेवाड़ा के लिए बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, सुकमा के लिए संसदीय सचिव रेखचंद जैन, नारायणपुर के लिए विधायक व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष मोहन मरकाम तथा बीजापुर जिले के कार्यक्रमों के लिए संसदीय सचिव इंद्रशाह मंडावी को प्रभारी बनाया गया है।
ये भी पढ़ें...राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस अध्यक्ष बनाने का भूपेश बघेल ने किया समर्थन

Show More
Anupam Rajvaidya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned