प्रदेश के 13 ब्लॉक हुए रेड, 39 ऑरेंज में, दो कंटेनमेंट जोन के बावजूद रायपुर ग्रीन जोन में

- 21 जिले में पहुंच चुका है कोरोना, 22 मई को आई थी पहली सूची, तब से अब तक 150 से अधिक नए संक्रमित मरीज मिले।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 27 May 2020, 09:40 PM IST

रायपुर . राज्य सरकार ने मंगलवार को दूसरी रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन की सूची जारी कर दी। नई गाइडलाइन के मुताबिक विकासखंड (ब्लॉक) स्तर पर जोन तय किए जा रहे हैं। पहली सूची 22 मई को जारी हुई थी, जिसमें सिर्फ चार ब्लॉक ही रेड जोन में थे, मगर अब संख्या बढ़कर 13 जा पहुंची है। इसकी वजह है बीते पांच दिनों से रोजाना 40 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिलना। उधर, ऑरेंज जोन की संख्या 80 से सिमटकर 39 रह गई है। सबसे आश्चर्य की बात यह है कि पहली सूची में जहां रायपुर के चारों ब्लॉक ऑरेंज जोन में था, अब सभी ग्रीन जोन में आ गए हैं।

नई गाइडलाइन का आधार और इसे आधार बनाकर तैयार की जा रही सूची को लेकर खासी चर्चा है। उधर, स्वास्थ्य विभाग और गृह विभाग के अफसरों का कहना है कि हफ्तेभर में सामने आ रहे नए मामले, 1 लाख के जनसंख्या धनत्व में सैंपल कलेक्शन को लेकर जोन निर्धारित किए जा रहे हैं। कई ब्लॉक ऐसे भी हैं जहां संक्रमित मरीज नहीं हैं, फिर भी उन्हें ऑरेंज जोन में रखा गया है।

केंद्र और राज्य की गाइडलाइन में मुख्य अंतर:-

रेड जोन - केंद्र सरकार की गाइड-लाइन के मुताबिक जिस भी जिले में एक भी पॉजिटिव मरीज मिलता है, उसे 14 दिनों के लिए रेड जोन में शामिल किया जाता है। मगर, राज्य ने तय किया है कि ब्लॉक रेड जोन में आएंगे। इससे जनजीवन प्रभावित नहीं होगा। लोगों में भय भी नहीं होगा।

ऑरेंज जोन :
संक्रमित मरीज मिलने के 14 दिन के अंदर अगर कोई नया मरीज नहीं मिलता है तो जिला ऑरेंज जोन में होगा। मगर, राज्य में इसे जनसंख्या धनत्व के आधार पर आने वाले सैंपलों के आधार पर तय किया जा रहा है। बस्तर संभाग के कई ब्लॉक में संक्रमित मरीज नहीं मिले, मगर उन्हें ऑरेंज जोन में रखा गया है।

रेड जोन :
बालोद- डौंडीलोहरा। कोबरा- कोरबा। मुंगेली- मुंगेली। रायगढ़- रायगढ़ शहरी। राजनांदगांव- छुरिया। अंबिकापुर- अंबिकापुर। बिलासपुर- कोटा, तखतपुर, बिलासपुर शहरी, मस्तुरी, बिल्हा। कवर्धा- कवर्धा। बलौदाबाजार- बलौदाबाजार।

ऑरेंज जोन :
बालोद- बालोद, डौंडी, गुंडरदेही। जांजगीर- बलौदा, बम्हनीडीह, नवागढ़, सक्ती। बलौदाबाजार- बिलाईगढ़, सिमगा, पलारी, कसडोल। बस्तर- बस्तानार, बकावंड। बेमेतरा- साजा, नवागढ़। दंतेवाड़ा- गीदम। धमतरी- गुरजा, कुरुद, नगरी, धमतरी शहरी। दुर्ग- पाटन, निकुम। मुंगेली- लोरमी। रायगढ़- लैलूंगा। राजनांदगांव- मोहला, घुमका। सरगुजा- मैनपाट। कांकेर- दुर्गकोंदल, कांकेर। गरियाबंद- गरियाबंद। कोरिया- खंडगवां। रायगढ़- लैलूंगा। गौरेला-पेंड्रा-मरवाही- मरवाही। बलरामपुर- बलरामपुर, राजपुर, कुसमी, शंकरगढ़, रामनुजगंज, वाड्रफनगर .

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned