क्लैट परीक्षा: खुद के वाहनों से सेंटर जाना होगा परीक्षार्थियों को, एडमिट कार्ड दिखाने पर मिलेगी पुलिस से राहत

- 28 सितंबर को परीक्षा .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 25 Sep 2020, 11:46 PM IST

रायपुर। कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन के बावजूद 28 सितंबर को कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट) आयोजित करने का निर्देश जिम्मेदारों ने दिया है। इस परीक्षा का सेंटर प्रदेश के रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर जिले में बनाया गया है। क्लैट में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को सेंटर तक पहुंचने के लिए निजी साधनों से पहुंचना होगा।

अभ्यर्थियों को सेंटर के अंदर व बाहर कोविड गाइड लाइन का पालन करने का निर्देश जिम्मेदारों ने दिया है। परीक्षा के दौरान अभ्यार्थी एडमिट कार्ड के अलावा अपने साथ पानी की बोतल, सेनिटाइजर साथ ले जा सकेंगे। तापमान जांच कराने के बाद ही अभ्यर्थियों को सेंटर में इंट्री मिलेगी। जिन अभ्यर्थियों का तापमान ज्यादा होगा, उन्हें परीक्षा सेंटर में बनी आइसोलेशन लैब में बैठकर इम्तिहान देना होगा।

800 छात्रों ने कराया है रजिस्ट्रेशन
क्लैट के इग्जाम में प्रदेश के लगभग 800 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इन परीक्षार्थियों को सेंटर इम्तिहान के 1 घंटे पहले पहुंचना होगा। दो चरणों की जांच के बाद ही परीक्षार्थियों को केंद्र में इंट्री मिलेगी। एडमिट कार्ड के साथ परीक्षार्थियों को अपना फोटो आईडी व दो फोटो भी रखना होगा।

एडमिट कार्ड दिखाने पर मिलेगी राहत
इम्तिहान के दिन परीक्षा सेंटर पहुंचने वाले अभ्यर्थियों को पुलिस जब रोकेगी, तो वे एडमिट कार्ड को दिखाकर पुलिस की कार्रवाई से बच सकेंगे। अभ्यर्थियों के पालकों को भी एडमिट कार्ड के आधार पर राहत देने का निर्देश जिला प्रशासन ने जारी किया है।

28 सितंबर को क्लैट की परीक्षा आयोजित होगी। अभ्यर्थियों को अपने निजी वाहनों से परीक्षा सेंटर तक जाना होगा। प्रदेश में 3 सेंटर बनाए गए है।
दीपक श्रीवास्तव, रजिस्ट्रार, हिदायतुल्लाह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी

एडमिट कार्ड दिखाने पर परीक्षार्थियों को लॉकडाउन में राहत मिलेगी। सेंटर के बाहर कोविड गाइड लाइन का पालन हो, इसलिए पुलिस बल सेंटर संचालकों को मुहैय्या कराया जाएगा।
के.एस.पटले, समन्वयक, जिला प्रशासन

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned