सरोज की राखी पर सीएम का वादा, शराबबंदी होकर रहेगी, एक राखी मोदी को भेजने की सलाह

- भाजपा सांसद सरोज पांडेय ने मुख्यमंत्री को राखी भेजकर की थी शराबबंदी की मांग
- सीएम ने सरोज को पत्र और साड़ी भेजकर जताया आभार, भाजपा के अधूरे वादे भी गिनाए

By: Bhupesh Tripathi

Published: 24 Jul 2020, 12:53 PM IST

रायपुर. भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव और सांसद सरोज पांडेय के राखी भेजने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्ण शराबबंदी का वादा एक बार फिर दोहराया है। भूपेश बघेल ने गुरुवार को बकायदा लुगरा (साड़ी), नकदी भेजा। उसके साथ भेजे पत्र में कहा, मैं आपसे वादा कर रहा है कि छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी होकर रहेगी, हम सब इसकी तैयारी में लगे हैं।

अपने पत्र में राखी के लिए कृतज्ञता जताते हुए मुख्यमंत्री ने लिखा, इस पवित्र त्योहार के अवसर पर राजनीतिक मुद्दा उठाने से उन्हें मानसिक कष्ट हुआ है। मुख्यमंत्री ने लिखा, उनकी सरकार को 18 महीने ही हुए हैं। इतने समय में ही सभी चुनावी वादे पूरी करा लेने की आपकी अधीरता समझ से परे है। प्रसन्नता होती अगर आप, पिछले 15 सालों में भाजपा सरकार द्वारा आदिवासी परिवारों को गाय देने, धान का दाम 2100 रुपए करने, पांच वर्ष तक प्रति क्विंटल 300 रुपए का बोनस देने, लघु वनोपज को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने, शराबबंदी जैसे वादो और प्रधानमंत्री द्वारा सभी के खाते में 15-15 लाख रुपए देने, पेट्रोल का दाम 40 रुपए लीटर करने, डालर की कीमत 40 रुपए करने, महंगाई कम करने, एक करोड़ रोजगार देने, संसद में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण और भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए प्रभावी लोकपाल की नियुक्ति संबंधी वादों को पूरा करने में असफल रहे रमन सिंह और नरेंद्र मोदी को भी राखी भेजतीं।

इससे पहले एक ट्वीट में मुख्यमंती ने कहा, आपने आज पुन: प्रदेश के सामने ला दिया कि आपके भाई रमन सिंह ने 15 साल तक आपके वादे को तोड़ा, आपकी बात नहीं मानी। मुख्यमंत्री ने लिखा, मुझे उम्मीद है कि मेरी बहन में इतनी हिम्मत तो है कि वो अपनी पार्टी के नेता को एक राखी भेज सकेंगी। भाजपा सांसद सरोज पांडेय ने बुधवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राखी भेजा था। इसके साथ सरोज पांडेय ने एक पत्र लिखकर मुख्यमंत्री को चुनाव के समय महिलाओं से किया गया शराबबंदी का वादा याद दिलाया था। राखी पर उठे इस मुद्दे ने प्रदेश की राजनीति गर्म है। भाजपा और कांग्रेस दोनों तरफ से आरोप - प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं।

कांग्रेस ने कहा, राखी का राजनीतिकरण
कांग्रेस सांसद फूलो देवी नेताम ने कहा, सरोज पांडेय को अचानक भाई बहन के रिश्ते की याद कैसे आ गई। 15 साल तक प्रदेश में भाजपा की सरकार थी। उन 15 वर्षों में सरोज पांडेय ने रमन सिंह को राखी भेजकर शराबबंदी की मांग क्यों नहीं की। क्या सरोज पांडेय को रमन सिंह पर भरोसा नहीं था। फूलो देवी ने भाजपा नेत्री पर राखी के राजनीतिकरण का आरोप लगाया। संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा, पूर्ववर्ती सरकार के समय सरोज पांडेय कहां थीं। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने पिछले 15 साल में रमन सिंह से ऐसी मांग वाले पत्र को सार्वजनिक करने की मांग की है।

भाजपा बोली-राखी पर घोषित हो शराबबंदी
पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, अच्छी बात है, महिला रक्षा दल के नेता मुख्यमंत्री से शराबबंदी की मांग कर रही हैं। यह सरकार शराबबंदी का वादा कर शराब बेच रही है। ऐसे में सरोज पांडेय का आग्रह स्वीकार कर मुख्यमंत्री शराबबंदी की घोषणा करें तो यह स्वागत योग्य होगा। भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष पूजा विधानी ने कहा, कांग्रेस नेता सवाल के बदले सवाल कर मुद्दे को भटकाने की कोशिश कर रहे हैं। भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष विजय शर्मा ने कहा, सभी चाहते हैं तो सरकार राखी के दिन पूर्ण शराबबंदी की घोषणा कर दे।

Congress
Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned