scriptCM Bhupesh will take entire cabinet to meet PM for Usna Chawal 10101 | तब अटलजी ने खिलाया था जलेबी-समोसा, अभी तो टाइम मिलने का ही नहीं है भरोसा | Patrika News

तब अटलजी ने खिलाया था जलेबी-समोसा, अभी तो टाइम मिलने का ही नहीं है भरोसा

उसना चावल: पीएम से मिलने पूरी कैबिनेट को लेकर जाएंगे सीएम

 

रायपुर

Published: December 02, 2021 10:47:32 pm

शिव शर्मा
रायपुर. धान खरीदी की अच्छी बोहनी के बाद सबको इंतजार है मुख्यमंत्री की पूरे मंत्रिमंडल के साथ प्रधानमंत्री से संभावित मुलाकात का। वैसे, प्रदेश के पहले सीएम अजीत जोगी अपनी पूरी टीम के साथ तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से ऐसी ही मुलाकात कर चुके हैं। तब भी मुद्दा धान खरीदी का ही था। राजनीतिक और प्रशासनिक वर्ग में उस मीटिंग की यादें ताजा होने लगी है, खासतौर पर अटलजी द्वारा खिलाए गए जलेबी-समोसा की। चर्चा के साथ चिंता भी है, क्योंकि मुलाकात के लिए प्रधानमंत्री का समय लेने के लिए मुख्य सचिव द्वारा पीएमओ को भेजी गई चि_ी का अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।

pm_modi_1.jpg

क्यों महत्वपूर्ण है मुलाकात
धान का मुद्दा प्रदेश के लिए कितना संवेदनशील और महत्वूर्ण है, यह सभी को पता है। प्रदेश के खजाने की सेहत पर इस बैठक का परिणाम काफी असर होगा। दरअसल इस साल सरकार ने 105 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य तय किया है। इसमें से
61. 65 लाख मीट्रिक टन चावल केन्द्रीय पूल में जाएगा। उसमें भी केंद्र की शर्त है कि सिर्फ अरवा चावल लेंगे, उसना चावल नहीं। प्रदेश की दिक्कत ये कि लगभग पौने पांच सौ उसना राइस मिलों और उनके कर्मचारियों का क्या होगा? दूसरा संकट ये कि प्रदेश की राइस मिलें 100 प्रतिशत क्षमता से भी काम करेंगी तो भी समय पर 61 लाख मीट्रिक टन चावल की मिलिंग नहीं कर पाएंगी। इसका बोझ भी राज्य के खजाने पर ही पड़ेगा।

भूपेश ने साफ कहा- परेशान कर रहा केंद्र
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। कभी कहा जाता है समर्थन मूल्य से एक रुपया भी अधिक दिया तो चावल नहीं लेंगे। दूसरे साल हमने इनपुट सब्सिडी देना शुरू किया तो कहने लगे सभी फसलों पर दीजिए। सभी फसलों पर देने लगे तो अब कह रहे हैं कि उसना चावल नहीं लेंगे। जब से चावल जमा हो रहा है तब से उसना और अरवा को एक अनुपात में लिया जाता रहा है, तो अब ऐसा क्यों? मतलब साफ है, हमें जानबूझकर परेशान किया जा रहा है।

23 लाख मीट्रिक टन उसना चावल लेने का अनुरोध
पिछले दिनों राज्य के अधिकारियों ने केंद्रीय अधिकारियों से मुलाकात की थी। प्रदेश के खाद्य सचिव टोपेश्वर वर्मा ने केन्द्रीय पूल के अंतर्गत भारतीय खाद्य निगम में 23 लाख मीट्रिक टन उसना चावल स्वीकार किए जाने का अनुरोध किया था।

बैठे थे धरने पर हुई, गिरफ्तारी
धान खरीदी शुरू करने के लिए सरकार को काफी संघर्ष करना पड़ था। पूरी सरकार दिल्ली में छत्तीसगढ़ सदन के बाहर धरने पर बैठी थी। गिरफ्तारी भी हुई थी। बाद में प्रधानमंत्री से मुलाकात की और धान खरीदी का रास्ता खुला। उस समय बारदाना की व्यवस्था भी नहीं थी। तत्कालीन मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी ने मुझे कोलकाता भेजा था। वहां तीन-चार दिन रहकर बारदानों की व्यवस्था की थी।
- बीकेएस रे, रिटायर्ड आईएएस तत्कालीन कृषि उत्पादन आयुक्त

किसान को तकलीफ होती है, तो पूरे देश को तकलीफ होती है, लेकिन केंद्र सरकार किसानों के प्रति हमदर्दी नहीं दिखा रही है।बार-बार पत्र लिखने के बाद प्रदेश के किसानों की अनदेखी की जा रही हैै, लेकिन भूपेश सरकार हर स्थिति से निपटने के लिए सक्षम है और किसानों का अहित नहीं होने देंगे।
- सत्यनाराण शर्मा, वरिष्ठ विधायक (जोगी के साथ अटलजी से मिलने गए थे)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Corona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरGhana: विनाशकारी विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 59 घायलभारत ने जानवरों के लिए विकसित किया पहला कोरोना वैक्सीन,अब शेर और तेंदुए पर ट्रायल की योजना50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्कर'कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते', अमर जवान ज्योति के वॉर मेमोरियल में विलय पर राहुल गांधीUP Weather News Update : ठंड ने ताेड़ा 13 साल का रिकॉर्ड, अगले तीन दिन बारिश का अलर्ट, 10 किमी की रफ्तार से चलेंगी हवाएंबड़ी खबर- सरकार ने माफ किया पुराना बिल, अब महंगी होगी बिजली
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.